आयशर कैंटर अज्ञात वाहन में पीछे से टकराई,तीन लोग गंभीर रुप से घायल

  • एक घंटे के बचाव राहत कार्य के बाद पुलिस ने तीनों को बचाया
  • रेस्क्यू आपरेशन में इलाका पुलिस ने गाड़ी को काटकर तीनों को निकाला,हालत नाजुक

भास्कर समाचार सेवा

नौहझील-यमुना एक्सप्रेस वे पर नौहझील थाना क्षेत्र में आगरा से नोएडा की ओर जा रही तेज रफ्तार आयशर कैंटर पीछे से किसी अज्ञात वाहन में जा घुसी,गाड़ी के केबिन में बैठे तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गये जिन्हें इलाका पुलिसकर्मियों द्वारा करीब एक घंटे तक चले रेस्क्यू आपरेशन के बाद गंभीर हालत में बाहर निकाला गया। जहां से एंबुलेंस की मदद से तीनों को प्राथमिक उपचार हेतु सीएचसी नौहझील भेजा गया। जहां से डाक्टरों ने तीनों को नाजुक हालत में बाहर रेफर कर दिया।
जानकारी अनुसार कपिल पुत्र सतेन्द्र,भूरा पुत्र पप्पू निवासी मझोला हाथरस व संजय पुत्र अमरीश कुमार निवासी गंगीरी अलीगढ़ आयशर कैंटर में मिर्च भरकर हाथरस से यमुना एक्सप्रेस वे से होकर नोएडा मंडी बेचने जा रहे थे तभी अचानक तेज रफ्तार आयशर कैंटर अनियंत्रित होकर यमुना एक्सप्रेस वे के माइल स्टोन 68 पर किसी अज्ञात वाहन में जा घुसी। टक्कर की आवाज सुनकर खेतों पर कार्य कर रहे किसान घटना स्थल पर एकत्रित हो गए और घटना की सूचना इलाका पुलिस को दी। मौके पर तत्काल पहुंची नौहझील थाना पुलिस व एक्सप्रेस वे सुरक्षा कर्मियों ने बिना देर किए केबिन में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए कटर मशीन मंगाई और करीब एक घंटे तक चले रेस्क्यू आपरेशन के बाद तीनों लोगों को सकुशल बाहर निकाला गया। एंबुलेंस की मदद से तीनों को सीएचसी नौहझील भेजा जहां से एक को जिला अस्पताल तो दो लोगों को कैलाश हास्पीटल जेवर रेफर कर दिया।तीनों की हालत नाजुक बताई जा रही है।

लोगों ने की पुलिस की सराहना

यमुना एक्सप्रेस वे पर करीब एक घंटे तक चले रेस्क्यू आपरेशन के बाद तीनों लोगों को गाड़ी के केबिन से कटर मशीन की मदद से काटकर निकालने में नौहझील थाना पुलिस ने अहम भूमिका निभाई।अगर पुलिस तत्परता न दिखाती तो तीनों लोगों की जान जा सकती थी। पुलिस के इस सराहनीय कार्य की प्रशंसा यमुना एक्सप्रेस वे से होकर गुजर रहे लोगों व मौके पर एकत्रित लोगों ने जमकर सराहना की।

Back to top button