फतेहपुर : स्वास्थ्य विभाग ने गांगपुर गांव में लगाया चिकित्सा कैम्प, की 86 मरीजो की जांच

दैनिक भास्कर ब्यूरो

फतेहपुर । अमौली विकास खण्ड के अंतर्गत ग्राम सभा गोविंदपुर बिलारी के मजरे गांगपुर गांव में वायरल बुखार के साथ डेंगू, मलेरिया, टाइफाइड के प्रकोप से लगभग आधा सैकड़ा से ऊपर लोग बीमार पड़े थे जिसमे से कुछ लोग ग्रामीण क्षेत्रों के अलग अलग निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे थे, तो कुछ लोग घर पर ही उपचार करा बीमारी से निजात पाना चाहते थे। लेकिन जब गांव में भास्कर टीम पहुंची तो ग्रामीणों ने बताया कि हमारे गांव में प्रत्येक घर में कोई न कोई मलेरिया, डेंगू, वायरल बुखार से पीड़ित है। जिसकी खबर दैनिक भास्कर ने प्रमुखता से प्रकाशित किया। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने संज्ञान में लेकर ग्रामीण क्षेत्र के गांगपुर गांव में मंगलवार को कैम्प लगाकर डॉक्टरों द्वारा मरीजो को देखकर उपचार किया गया।

दैनिक भास्कर की खबर को स्वास्थ्य विभाग ने लिया था संज्ञान

कैम्प में कुल 86 लोगो की जांच की गई जिसमे मरीज की बीमारी के लक्षण को देखकर 11 मरीजों की डेंगू की जाँच और 10 मरीजों की मलेरिया की जाँच की गई। जिसमे सभी की जाँच निगेटिव पायी गयी। गांव में आई स्वास्थ्य विभाग की टीम में से डॉ सुनील शर्मा ने बताया कि सभी मरीजों को देखने के बाद वायरल बुखार के लक्षण पाये गये है। घबराने की कोई बात नही है कैम्प में सभी मरीजों को दवा वितरित की गयी है।

इस सिलसिले में डॉक्टर ने मरीजों से कहा कि समय समय से दवा खाये, गंदगी से दूर रहे और स्वच्छता का ख्याल रखे। जाँच टीम में डॉ सुनील शर्मा, लैब टेकनीशियन विकास सिंह, सीएचओ प्रियंका, एएनएम दया सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे।

Back to top button