पत्‍नी से लड़ाई करने वाले पतियों को जिंदगी में कभी नहीं मिलती सफलता, बनी रहती है धन की कमी !

पत्‍नी से लड़ाई – हमारी जिंदगी पर ग्रहों का बहुत असर पड़ता है।

हम क्‍या करते हैं और हमें उसका क्‍या फल मिलता है, ये सब ग्रहों से प्रभावित होता है। ग्रहों की शांति के लिए लोग कई तरह की पूजा-पाठ भी करवाते हैं।

अगर आपको अपने जीवन में परेशानियां और कठिनाईया उठानी पड़ रही हैं तो इसका कारण आपकी कुंडली में बैठे अशुभ ग्रह हो सकते हैं। जी हां, ग्रहों की प्रतिकूल स्थिति ही जिंदगी को मुश्किल बना देती है।

अगर आप अपनी कुछ जरूरतों को बदल लें तो आपको ग्रहों की शांति करवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हमारी कुछ आदतें ही हमारी जिंदगी में विफलता का कारण बनती हैं, जिनमें से एक है पत्‍नी से लड़ाई ।

जिन आदतों की हम बात कर रहे हैं उनमें से एक आदत पत्‍नी से लड़ाई करना भी है। आए दिन आप भी अपनी पत्‍नी से छोटी-छोटी बातों पर लड़ाई-झगड़ा करते होंगें लेकिन आप ये नहीं जानते होंगें कि इससे आपकी कुंडली में शुक्र की दशा खराब होती है।

शुक्र के खराब होने पर आर्थिक स्थिति खराब हो जाती है और सेहत संबंधित बीमारियां भी घेर लेती हैं।

भाईयों से विवाद

अगर कुंडली में मंगल ठीक नहीं है तो भाईयों से विवाद रहता है। जन्‍मकुंडली में नौ ग्रहों में से मंगल को भाई का कारक माना गया है। मंगल की दशा को ठीक करने के लिए अपने भाईयों से संबंध को मधुर बनाए रखना जरूरी है। ऐसा करने से मंगल दोष भी दूर होता है।

कर्मचारियों का रखें ध्‍यान

शनि देव को प्रसन्‍न करना चाहते हैं तो आपको अपने कर्मचारियों को सम्‍मान देना चाहिए। अगर आप अपने कर्मचारियों का ध्‍यान रखते हैं और उन्‍हें पूरा सम्‍मान देते हैं तो इससे शनि देव की कृपा आपके ऊपर बनी रहती है। उन्‍हें वेतन देने में कोई आनाकानी ना करें।

माता-पिता को दें सम्‍मान

माता-पिता की सेवा करने वाले व्‍यक्‍ति को सूर्य और चंद्रमा का साथ मिलता है।

जी हां, अगर आप अपने माता-पिता का सम्‍मान करते हैं और उनकी हर जरूरत का ध्‍यान रखते हैं तो आपको सूर्य और चंद्रमा की विशेष कृपा मिलेगी। ज्‍योतिष में चंद्रमा को माता और सूर्य को पिता का कारक माना गया है।

इसके अलावा जो लोग साफ-सफाई का ध्‍यान नहीं रखते हैं उन पर राहू का प्रकोप रहता है। याद रखें राहू अपने प्रकोप से आपको बर्बाद कर सकता है। इसके प्रभाव में आने वाला व्‍यक्‍ति खुद अपने हाथों से अपने जीवन को बर्बाद कर देता है और कंगाल हो जाता है। राहू दोष से बचने के लिए अपने घर एवं आसपास सफाई का ध्‍यान जरूर रखें।

दोस्‍तों, अगर आप अपनी कुछ आदतों को बदल लेंगें तो इससे आपकी ही किस्‍मत चमकेगी। अकसर लोग अपनी पत्‍नी का सम्‍मान नहीं करते हैं और माता-पिता को भी बूढे होने पर घर के किसी कोने में पड़े रहने के लिए छोड़ देते हैं। ये आदत आपको ही नुकसान देती है। इससे आपको व्‍यापार और करियर में तरक्‍की नहीं मिलती और जीवन में कुछ भी अच्‍छा नहीं होता है।

अगर आप अपने जीवन को सही मार्ग और सफलता की ओर ले जाना चाहते हैं तो अपनी इन बुरी आदतों को छोड़ दें। इसी में आपकी और आपके परिवार की भलाई है।

Back to top button
E-Paper