झारखंड मॉब लिंचिंग मामले में मुख्य आरोपी सहित 11 गिरफ्तार, दो पुलिस अधिकारी सस्पेंड

सरायकेला/रांची । झारखंड में सरायकेला थाना अंतर्गत सीनी ओपी के धातकीडीह गांव में शम्स तबरेज नामक युवक की मॉब लीचिंग में हुई  मौत मामले में मुख्य आरोपित सहित 11 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार लोगों में मुख्य आरोपित प्रकाश मंडल उर्फ पप्‍पु मंडल, भीमसेन मंडल, प्रेमचंग महली, कमल महतो, सोनामो प्रधान, सत्यनारायण नायक, सोनाराम महली, चामू नायक, मैदान नायक, महेश महली और सुमंत महतो शामिल है। एसपी एस कार्तिक ने मंगलवार को बताया कि अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि मृतक शम्स तरबेज अपने तीन साथियों के साथ धातकीडीह गाँव में चोरी कर रहा था । चोरी करते युवक को ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ लिया और उसके बाद उसकी जमकर पिटाई की।

हालांकि यह सूचना एक दिन बाद अहले सुबह पुलिस को लगी थी। इसके बाद मौके पर पुलिस पहुंची और पिटाई से घायल युवक को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। सदर अस्पताल में डॉक्टरों द्वारा युवक का मेडिकल जांच किया गया। जांच के बाद उसे जेल भेज दिया गया था। लेकिन अचानक तबीयत बिगड़ने पर फिर उसे सदर अस्पताल लाया गया, जहां इलाज के क्रम में उसकी मौत हो गयी।

उल्लेखनीय है कि घटना को लेकर एसपी ने खरसावा थाना प्रभारी चन्द्र मोहन उरांव और सीनी थाना प्रभारी बिपिन बिहारी सिंह को सोमवार को सस्पेंड कर दिया था। मामले का जल्द खुलासा करने एसआईटी का गठन किया था। जबकि मामले में वायरल हुए वीडियो की जांच के लिए डीजीपी कमल नयन चौबे ने एफएसएल से जांच कराने का निर्देश दिया था।

देखे विडियो

Back to top button
E-Paper