कानपुर दोहरे हत्याकांड का खुलासा : पिता ने की बेटे-बहू की हत्या

कानपुर। पति-पत्नी की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया। 70 साल के पिता ने बेटे शिवा तिवारी (27) और बहू जूली राजपूत (25) की चाकू से गला रेतकर हत्या की है। हत्या के बाद दोनों के शव को बेड के नीचे छिपा दिया। सुबह हुई तो खुद बेटे-बहू के मर्डर की खबर पड़ोसियों को दी।आरोपी पिता दहाड़ मारकर रोता रहा और पुलिस को गुमराह करता रहा। हालांकि, पुलिस ने सख्ती की तो आरोपी पिता टूट गया। उसने बेटे-बहू की हत्या की बात कबूल कर ली।
शिवम ने दिसंबर में दर्शनपुरवा की रहने वाली जूली राजपूत से मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह में शादी की थी। शिवम के परिवार वाले इस शादी के खिलाफ थे। वह शादी में शामिल भी नहीं हुए थे, जबकि लड़की का परिवार दोनों की शादी के लिए तैयार था।
वारदात के वक्त घर में बेटा-बहू और उसका एक छोटा भाई था। वारदात बजरिया थाना क्षेत्र के रामबाग इलाके की है।खूलासे में पुलिस उपायुक्त बीबीजीटीएस मूर्ति ने बताया, आरोपी पिता दीप तिवारी ने बुधवार रात 12 से 1 बजे के बीच बेटे-बहू की हत्या की। रात को पहले पिता छोटे बेटे के साथ छत पर सोने के लिए चला गया। करीब एक घंटे बाद नीचे आया। कमरे में बेटा-बहू सो रहे थे। आरोपी पिता ने चाकू से गला रेतकर बेटे और बहू की हत्या कर दी। इसके बाद वहां रखे हुए पानी में हाथ धोया। दोनों के शव को बेड के नीचे छिपाया और फिर छत पर सोने के लिए चला गया।सुबह छत से उतर कर कमरे में आकर बेटे-बहू का खून से सना हुआ शव देखकर जोर-जोर से चिल्लाने लगा। मकान मालिक को हत्या की सूचना दी। इसके बाद मकान मालिक विवेक दीक्षित ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस डॉग स्क्वायड और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट के साथ मौके पर पहुंची। पुलिस ने देखा तो शिवम और जूली के शव कमरे में बेड के नीचे थे। दोनों की चाकू से गला रेतकर हत्या की गई थी।

Back to top button