आने का वादा कर वायुसेना के विमान में लापता हो गया कानपुर का लाल

परिवार के सदस्य सलामती के लिए कर रहे हैं दुआएं 
कानपुर )। भारतीय वायुसेना के लापता हुए एंटोनोव एएन-32 विमान में कानपुर जनपद का लाल वारंट अफसर कपिलेश कुमार मिश्रा भी सवार था। उनके लापता होने की सूचना जनपद स्थित उनके पैतृक आवास पहुंची तो परिवार की खुशियां काफूर हो गईं। परिजनों का कहना है कि 20 दिन बाद कपिलेश ने आने का वादा किया था, इसलिए वह जरूर वापस लौटेगा। परिजनों ने उनके सही सलामत लौटने के लिए प्रार्थना शुरू कर दी है।
असम के जोरहाट से अरुणाचल प्रदेश के मेंचुका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड के लिए सोमवार को रवाना हुआ एंटोनोव एएन-32 विमान अभी भी लापता है। जनपद के बिल्हौर थाना क्षेत्र स्थित उत्तरीपुरा गांव निवासी कपिलेश कुमार मिश्रा भारतीय वायुसेना में वारंट अफसर के पद पर कार्यरत हैं। इन दिनों उनकी तैनाती असम के जोरहाट वायुसेना एयरपोर्ट पर है जहां वह पत्नी ऊषा और बेटी स्नेहा के साथ रहते हैं। सोमवार से लापता भारतीय वायुसेना एएन-32 के विमान में सवार चालक दल के साथ 13 सदस्यों में वारंट अफसर कपिलेश भी शामिल हैं।
विमान के लापता होने की सूचना वायुसेना के अफसरों ने उनकी बेटी स्नेहा को दी जिसके बाद सोमवार देर रात को बेटी ने कानपुर में अपने घर ताऊ-ताई को यह दुःखद जानकारी दी। जैसे ही वारंट अफसर भाई के लापता होने की जानकारी बड़े भाईयों प्रमिलेश कुमार मिश्रा व राकेश मिश्रा को हुई तो उनके होश उड़ गये। उनके बड़े भाई प्रमिलेश व सेवा मंदिर इंटर कॉलेज में कार्यरत लिपिक राकेश मिश्रा ने मंगलवार को बताया कि दो दिन पूर्व रविवार को ही कपिलेश से बात हुई थी। बातचीत के दौरान सब कुछ ठीक था। सोमवार को भी कपिलेश की पत्नी ऊषा से भाई राकेश की पत्नी शशि की बातचीत हुई थी। इस दौरान वह वट-सावित्री की पूजा के चलते घर पर थे और उन्होंने उनका हाल-चाल जाना था।
देर रात को विमान के साथ कपिलेश के लापता होने की जानकारी मिलने के बाद से परिवार की बैचेनी बढ़ गई है। भाईयों के साथ ही उनके रिश्तेदारों ने उनकी व विमान में मौजूद सभी सदस्यों के सही-सलामत लौटने के लिए ईश्वर से प्रार्थना का दौर शुरू कर दिया है। भाईयों ने कहा कि कपिलेश ने 20 दिन बाद आने की बात कही थी। वह जहां भी होगा वह ठीक होगा और जल्द ही हमारे साथ वापस लौटेगा।
उधर, लापता विमान की तलाश मंगलवार को तेज कर दी गई है। विमान की खोजबीन में सुखोई-30, सी-130 विमानों के साथ ही सेना व सरकारी तंत्र जुटा हुआ है लेकिन अभी 24 घंटे से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी उसका कोई भी पता नहीं चल सका है। लापता विमान में चालक दल के साथ 13 लोग शामिल थे। इनमें एक विंग कमांडर, चार फ्लाइट लेफ्टिनेंट, एक स्क्वाड्रन लीडर व सात एयरमैन में जिले के बिल्हौर इलाके में रहने वाले वारंट अफसर कपिलेश मिश्रा भी शामिल हैं।
Back to top button
E-Paper