सपने मे खाकी वर्दी आती थी, आज सपना हुआ पूरा

भास्कर समाचार सेवा

खेकड़ा। स्कूल के दिनो में सपने मे खाकी वर्दी आती थी, आज वर्दी पहनने का सपना पूरा हो गया यह अल्फाज है यूपी एस आई पुलिस परीक्षा मे पुलिस उपनिरीक्षक पद पर चयनित रटौल की बेटी दिव्या के। और दिव्या उन हजारो युवतियो के लिए प्रेरणा बनी है जो मेहनत और लग्न के बल पर मुकाम हासिल करने मे विश्वास रखती हैं।
मंगलवार को लोगो को जानकारी होने पर दिव्या के रटौल कस्बे मे स्थित उसके घर मे बधाई देने वालो का तांता लगा रहा। दिव्या ने सफलता का श्रेय माता पिता वीरेंद्र सिंह व सुमन और परिजनो के साथ गुरुजनो को दिया। और कहा कि मेरा बचपन से ही सपना था जिसे पूरा करने के लिए मैने कई वर्षो तक संघर्ष किया आखिरकार यूपी एस आई मे मेरी मेहनत रंग लाई और मुझे समाज का पुलिस उपनिरीक्षक बनकर सेवा करने का मौका मिला। और उन्होने बताया कि मैने प्रारंभिक तैयारी अपने घर से ही की थी निरंतर अभ्यास, कठिन परिश्रम व अनुशासन से कोई भी मुकाम हासिल किया जा सकता है मे अखबार रोज ध्यान से पढ़ती थी व इंटरनेट के माध्यम से ड़ेली टारगेटस बनाकर पढ़ाई किया करती थी।

Back to top button