लखीमपुर खीरी : 20 दिनों में लगभग 10 लोगों की हुई मौत, निरीक्षण करने क्षेत्र में पहुंचे सीएमओ खीरी

मैलानी खीरी। मैलानी कस्बे सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में हर तरफ बुखार का प्रकोप है। मैलानी कस्बे से लेकर गांवों तक हाहाकार मचा है। बीते 20 दिनों में लगभग 10 लोगों की जान जा चुकी है और सैकड़ो लोग बुखार की चपेट में हैं। क्षेत्र में हो रही मौतों की सूचना पर रविवार को गोला एसडीएम रत्नाकर मिश्रा के साथ दूसरी बार मैलानी पहुंचे मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर संतोष गुप्ता ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

वही एसडीएम गोला ने अधिशासी अधिकारी राजेश चौधरी को कस्बे में सफाई व्यवस्था दुरुस्त रखने एवं गली मोहल्लों में एंटी लारवा का छिड़काव करने का आदेश दिया है।कस्बे एवं आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में बीते 20 दिनों में विधायक पुत्री सहित 10 लोगों की मौते हो चुकी है जिसमें सुनील उर्फ नितिन 22 पुत्र लालाराम निवासी वार्ड नंबर 1,पुवांया विधायक चेतराम की पुत्री रेखा देवी 42 पत्नी राकेश कुमार वार्ड नंबर 7, नगर पंचायत में कार्यरत महिला कर्मचारी कनिज फातिमा 55, शबनम 20 पुत्री मुस्तफा मोहल्ला काली मंदिर,छुटने 70 वार्ड नंबर 9, मुकेश10 पुत्र राजू निवासी मोहल्ला पंचायत वार्ड,बबलू निवासी सुखचैनापुर की 8 माह की पुत्री,सरोजनी देवी42 पत्नी दिनेश निवासी वार्ड नंबर 8,अरुण मौर्य 25 निवासी फुलैया,पूजा पुत्री रामपाल शामिल है साथ ही लगभग सैकड़ो लोग मैलानी कस्बे सहित लखीमपुर,लखनऊ,शाजहाँपुर,पीलीभीत,बरेली के अस्पतालों में अपना इलाज कर रहे हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर संतोष गुप्ता ने बताया कि मैलानी क्षेत्र में वायरल फीवर का प्रकोप है, कुछ प्राइवेट अस्पताल वाले डेंगू मलेरिया से संबंधित भ्रामक प्रचार कर मरीजों को लूट रहे हैं जिनके विरुद्ध अभियान चला कर अवैध रूप से संचालित प्राइवेट अस्पतालों पर कार्रवाई करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं,कुछ लोगों के सैंपल एकत्र किए गए हैं,प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर दवाइयां सहित सभी सुविधाएं उपलब्ध है किसी भी बुखार के पीड़ित मरीज को डरने की आवश्यकता नहीं है।

नगर पंचायत अध्यक्ष कीर्ति माहेश्वरी ने बताया कि नगर पंचायत में प्रत्येक मोहल्ले में लगभग हर घर में बुखार का कोई न कोई मरीज है।बुखार के साथ जोड़ दर्द से परेशान मरीजों में डेंगू की आशंका से दहशत फैली हुई है।नगर पंचायत द्वारा हर वार्ड में सफाई व्यवस्था दुरुस्त कराकर एंटी लारवा का छिड़काव किया जा रहा है।

मैलानी में बुखार के मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण अस्पतालों में पहुंच रहे मरीजों को डॉक्टर फल खाने व जूस एवं नारियल पानी पीने की सलाह दे रहे हैं।जिसके चलते फल वालों ने फलों के दाम बढ़ा दिए हैं।फलों के दाम बढ़ने से लोगों के सामने समस्या खड़ी हो गई है।कस्बे में जहां कीवी एक पीस 40-50 रूपये तक बिक रही है वही पपीता 60 रूपये किलो,अनार 150 रुपए किलो,पानी वाला नारियल 70 रुपए पीस,बकरी का दूध 250 रुपए लीटर तक बिक रहा है।

Back to top button