लखीमपुर खीरी : रवि उर्फ रिंकू हत्याकांड, कोतवाल का आरोपितों से मिली भगत का आरोप

गोला गोकर्णनाथ खीरी।गोला कोतवाल को हटवाने के लिए एक बार फिर आक्रोशित पटेल समाज लामबन्द होकर मुखर हो गया है। जिसको लेकर कुर्मी क्षत्रिय समाज कल्याण समिति के मंत्री सुरेश चंद कनौजिया एड, सतीश वर्मा, व्यापारी नेता अशोक कनौजिया, सेंट्रल वार संघ के पूर्व अध्यक्ष लाल बिहारी वर्मा एड, पंकज वर्मा एड, संजय वर्मा एड आदि दर्जनों लोगों की मौजूदगी में तहसील दिवस में जिलाधिकारी को संबोधित मांगों का एक ज्ञापन मुख्य विकास अधिकारी को सौंपा है।

जिसमें रवि उर्फ रिंकू हत्याकांड में दोषी गोला कोतवाल को हटवाने, कोतवाल की आरोपितों से मिली भगत की जांच कराने एवं पीड़ितों व अन्य के विरुद्ध रोड जाम का दर्ज मुकदमा वापस लेने की मांगे शामिल हैं। बताते चलें कि नगर के मोहल्ला कुमार टोला में सत्रह दिन पहले हुए बहुचर्चित रवि वर्मा उर्फ रिंकू हत्याकांड के बाद पीड़ित परिवार जनों ने सदर चौराहे पर शव रखकर जाम लगाया था। तब बैक फुट पर आई पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया था। इसके बाद बिना जांच किए पुलिस ने अपराधियों के साथ मिली भगत से हत्या की धारा को गैर इरादतन हत्या की धारा में नामजद आरोपितों का चालान कर दिया था। परिवार जनों के विरुद्ध रोड जाम करने का मुकदमा दर्ज किया था।

इसके बाद पीड़ित परिवार ने पीट पीट कर हुई हत्या के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर सवाल उठाया था क्योंकि पीएम रिपोर्ट में मौत का कारण फेफड़े का संक्रमण बताया गया था। पटेल समाज ने महापंचायत कर पुनः पोस्टमार्टम कराने गोला कोतवाल को हटवाने पीड़ितों के विरुद्ध दर्ज किया गया मुकदमा वापस लेने, हत्या के आरोपितों से प्रभारी निरीक्षक गोला की मिली भगत की जांच कराने की मांग की थी।

जिसमें से 13 दिन बाद मृतक केशव का दोबारा पोस्टमार्टम करा दिया गया था इसके अलावा अन्य सभी मांगे अभी लंबित चल रही हैं। ज्ञापन पर विनोद वर्मा, हरिओम वर्मा, पटेल सुशील वर्मा, विजय वर्मा, अंकुर वर्मा, अमित वर्मा, जेपी वर्मा, सुभाष वर्मा, अंकित वर्मा, विशाल पटेल, मनीष पटेल, उमाशंकर, विजय वर्मा, एडवोकेट अवधेश वर्मा, एडवोकेट अवनीश वर्मा आदि ने हस्ताक्षर किए।

Back to top button