नौसरगुमटिहा गाँव से पकड़ा गया तेंदुआ भेजा गया चिड़ियाघर

मिहींपुरवा/बहराइच l मोतीपुर रेंज क्षेत्र के गांवों में एक हफ्ते से तेंदुआ ने चार लोगों का शिकार किया है। रविवार रात को बकरी के शिकार के चक्कर में तेंदुआ पिंजड़े में कैद हो गया था। तेंदुआ को गोरखपुर चिड़िया घर भेज दिया गया है। कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग के मोतीपुर रेंज से सटे गांव में एक सप्ताह से तेंदुआ आतंक मचा रहा था। तेंदुए गांव और खेत में जाकर बालकों को अपना शिकार बना रहे थे। अब तक तक तेंदुए के हमले में चार लोगों की मौत हो चुकी है। ग्रामीणों की नाराजगी के चलते बेबस वन विभाग ने तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजड़ा लगा दिया था। पिंजड़ा लगाने के बाद भी शनिवार शाम को दस वर्षीय बालक को तेंदुए ने हमला कर दिया था। जिला अस्पताल ले जाते समय बालक की मौत हो गई थी। रविवार रात को तेंदु आ वन विभाग द्वारा लगाए गए पिंजड़ा में कैद हो गया था। डीएफओ आकाशदीप वधावन ने बताया कि पशु चिकित्सकों की टीम ने तेंदुआ का स्वास्थ्य जांचा। बेहतर होने पर उच्चाधिकारियों के निर्देश पर उसे गोरखपुर के अशफाक उल्ला खां प्राणि उद्यान केंद्र में भेजा गया है। डीएफओ आकाश दीप बधावन ने बताया कि वन दरोगा कमला प्रसाद की देखरेख में तेंदु आ गोरखपुर चिड़िया घर भेजा गया। जू प्रशासन ने तेंदु आ को अपने कब्जे में ले लिया है। उन्होंने बताया कि तेंदुआ तीन वर्ष का नर था।

Back to top button