मिर्जापुर: डीआईजी ने सोनभद्र के सर्किल पिपरी की अपराध समीक्षा कर दिए ये दिशा निर्देश

मिर्जापुर। गुुरुवार को पुलिस उपमहानिरीक्षक विंध्याचल परिक्षेत्र आर0पी0 सिंह ने सोनभद्र के सर्किल पिपरी अर्न्तगत शक्तिनगर, अनपरा एवं पिपरी के थानों की अपराध समीक्षा की। समीक्षोपरान्त पाया कि अभियान के अर्न्तगत कोई सार्थक कार्यवाही नही की गयी है। अभियान के समस्त शीर्षको में अधिक से अधिक कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये साथ ही जो पुरस्कार घोषित एवं अन्य अभियुक्त गिरफ्तारी हेतु शेष है उनकी टीम गठीत करके गिरफ्तारी कराये तथा 1 वर्ष से अधिक व 06 माह से अधिक की लम्बित विवेचनाओं को टारगेट वेस अर्दली रुम करके निस्तारण कराना सुनिश्चित करें।

निर्देशित किया कि महिला एवं बाल अपराध को रोकने के लिए स्कूल स्टाफ, विद्यार्थियों तथा ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को जागरूक किया जाए, यदि जब भी कोई महिला थाने में शिकायत लेकर आती है तो सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों का पालन किया जाए। महिला संबंधी अपराधों में समय-समय पर जारी गाइडलाइन, उच्च न्यायालय के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए निर्धारित समयावधि के दौरान न्यायालय में चालान किया जाए।

ऐसे अभियोग जिनमें शिकायतकर्ता या गवाह दिव्यांग है तो उसे गवाही के दौरान उचित सुविधा प्रदान की जाएं। पुलिस का पहला कार्य कानून व्यवस्था की स्थिति को कायम रखना है। कानून व्यवस्था ड्यूटी के दौरान वीडियोग्राफी करवाई जाए तथा अपने-अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएं।चोरी के मामलों में शीघ्र अनावरण, बरामदगी की जाए। सांयकालीन व रात्रि गश्त को प्रभावशाली बनाया जाय।

रात के समय थानों से पैदल गश्त जरूर करें। रात को टोल नाकों, एटीएम व बैंक सुरक्षा में तैनात कर्मचारियों को चौक करें। डायल 112 व मोबाइल संबंधित क्षेत्र में प्रभावी रूप से गश्त करें। शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में चल रहे शराब के अवैध निष्कर्सन के प्रति सख्त कार्रवाई कर उन्हें बंद करवाएं जाय।

यातायात माह के दृष्टिगत शराब पीकर वाहन चलाने वालों, बिना नंबर प्लेट लगे वाहनों व बिना दस्तावेज वाहन चलाने वाले लोगों के खिलाफ मोटर वाहन अधिनियम के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाए। स्कूल वाहनों की भी जांच की जाए। नशीले पदार्थों के मामलों में उच्च न्यायालय के निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जाय, लोगों की शिकायतों को ध्यान से सुनें तथा नियमानुसार आवश्यक विधिक कार्यवाही करेंl आमजन से सभ्य व्यवहार करें, अपनी भाषा व वाणी पर संयम रखे आदि निर्देश दिए गए।

Back to top button