सेनिटरी नैपकिन, वाशिंग मशीन, रेफ्रिजरेटर, टीवी सहित 50 से ज्यादा उत्पाद आज से सस्ता, विक्रेता न दे लाभ दो ग्राहक करें शिकायत

नयी दिल्ली। सेनिटरी नैपकिन, वाशिंग मशीन, रेफ्रिजरेटर, 68 सेंटीमीटर तक का टेलिविजन, राखी, क्वायर कंपोस्ट, हाथ से बनी दरी और इथेनॉल समेत 50 से ज्यादा उत्पाद आज से सस्ते हो गये हैं। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत इन उत्पादों पर कर घटाने के कारण इन उत्पादों की कीमतों में कमी आयी है। जीएसटी परिषद ने 21 जुलाई को हुई बैठक में इन पर करों में बदलाव की घोषणा की थी जो आज से प्रभावी हो गयी। यदि कोई विक्रेता इसका लाभ अपने ग्राहकों को नहीं देता है तो ग्राहक इसकी शिकायत कर सकता है।

परिषद ने सेनिटरी नैपकीन, राखी, क्वायर, कंपोस्ट, फूलझाड़ू, साल के पत्तों से बने दोनों और थालियों, अतिरिक्त पोषक तत्व मिश्रित दूध, सिक्कों तथा पत्थर, संगमरमर और लकड़ी की मूर्तियों को कर मुक्त कर दिया है। हाथ से बनी दरी पर कर 12 प्रतिशत से घटाकर पाँच प्रतिशत, बाँस की फ्लोरिंग, केरोसिन के प्रेशर स्टोव, जिप और स्लाइड फास्टनर पर 18 से घटाकर 12 प्रतिशत, इथेनॉल पर 18 प्रतिशत से घटाकर पाँच प्रतिशत किया गया है।

घरेलू उपयोग के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे वाशिंग मशीन, वैक्यूम क्लीनर, मिक्सर, वाटर कूलर, मिल्क कूलर, आइसक्रीम फ्रीजर, लीथियम-आयन बैटरी, पेंट और वार्निश आदि पर कर की दर 28 प्रतिशत से घटाकर 18 प्रतिशत की गयी है। बिना पॉलिश के पत्थरों पर कर की दर पाँच प्रतिशत कर दी गयी है। सेवाओं में ई-बुक्स को 18 प्रतिशत की जगह पाँच प्रतिशत के स्लैब में कर दिया गया है। आयुष्मान भारत के तहत दिये जाने वाले प्रीमियम पर शून्य प्रतिशत जीएसटी लगेगा।

इन वस्तुओं को 28 से 12 प्रतिशत के स्लैब में लाया गया

– फ्युअल सेल वाहन (इन वाहनों पर क्षतिपूति उपकर भी हटाया गया), वस्त्र उद्योग को भी मिलेगा इनपुट टैक्स क्रेडिट का रिफंड
18, 12 और पाँच प्रतिशत के स्लैब वाली इन वस्तुओं पर कर की दर शून्य होगी –
– पत्थर, संगमरमर और लकड़ी की मूर्तियाँ राखी (जिनमें कीमती धातु आदि न जड़े हों)
– सैनिटरी नैपकिन, कॉयर पिथ कंपोस्ट
-साल और सियाली पत्तियां और उनके उत्पाद जैसे दोने और प्लेट तथा सबाई रस्सियाँ
– फूलभरी झाडू
-खली दोना
– सिक्के

इन वस्तुओं पर कर 12 प्रतिशत से घटाकर पाँच प्रतिशत किया गया

– चेनिल कपड़े और अन्य कपड़े
– हैंडलूम दरी
– फॉस्फोरिक एसिड (केवल उर्वरक ग्रेड)
– एक हजार रुपये मूल्य तक की बुनी हुई टोपी

इन वस्तुओं को 18 प्रतिशत से 12 प्रतिशत के स्लैब में लाया गया –

– बाँस फ्लोरिंग
-पीतल के प्रेशराइजड स्टोव
– हाथ से चलाने वाले रबड़ रोलर
-ज़िप और स्लाइड फास्टनर

Back to top button
E-Paper