संदिग्ध परिस्थितियों में नवविवाहिता की हुयी मौत

मायके वालों ने ससुराली जनों पर दहेज हत्या का लगाया आरोप

भास्कर समाचार सेवा
हाथरस/चंदपा। कोतवाली क्षेत्र के गांव बघना में संदिग्ध परिस्थितियों में नवविवाहिता की मौत हो गयी। मृतका की शादी करीब 5 माह पूर्व हुई थी। मृतका के मायके वालों ने ससुराली जनों पर दहेज हत्या का आरोप लगाया है। परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज ककिया गया है। बता दें कि नरेंद्र सिंह पुत्र भवानी सिंह निवासी बाबा कौलौनी बुराड़ी दिल्ली ने कोतवाली में तहरीर देते हुए कहा है कि उसने अपनी पुत्री बविता की शादी 5/2/2022 को बघना निवासी सौनू पुत्र नत्थीलाल के साथ की थी। शादी में अपनी हैसियत से तकरीबन 6 लाख रुपए खर्च किए थे। लेकिन पति सौनू वह ससुर नत्थीलाल व सास शकुन्तला देवी तथा जेठ पिंटू, देवर बिष्णु दिये हुए दान दहेज से संतुष्ट नहीं हुए और ललिता से मोटरसाइकिल की मांग करते थे। जब बविता ने यह बात बताई तो मैं गांव बघना आया और इन लोगों से बात की और कहा मेरे पास व्यवस्था नहीं है, लेकिन मैं जल्दी ही व्यवस्था करूंगा। लेकिन फिर भी यह लोग बविता को मारते पीटते थे। दिनांक 11 को प्रार्थी को फोन से सूचना दी कि बविता की तबीयत खराब है जब मैं और मेरी पत्नी विमलेश रात्रि 2.30 बजे गांव बघना पहुंचे तो इन्होंने बताया कि अभी इंजेक्शन लगवाया है। बविता सो रही है। जब मैं और मेरी पत्नी और बविता के ससुर नत्थीलाल पति सौनू जिला अस्पताल बविता को लेकर पहुंचे तो डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं नत्थीलाल वह सौनू वहां से भाग गये। अंत इन्होंने अतिरिक्त दहेज के लिए मेरी पुत्री को मार दिया है। वहीं पुलिस ने शव का पंचायतनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। तथा पिता की तहरीर पर दहेज हत्या में ससुरालियों पर मुकदमा दर्ज किया है।

Back to top button