किसी भी बच्चे को खाली पेट दवा का सेवन नही कराया जाये : डीएम

शहजाद अंसारी

बिजनौर। जिलाधिकारी अटल कुमार राय की अध्यक्षता में बुधवार को कलक्ट्रेट सभा कक्ष में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद स्तरीय अर्न्तविभागीय समन्वय/ओरियन्टेशन बैठक आहुत की गई।

  जिलाधिकारी अटल कुमार राय ने बताया कि जनपद के बच्चों में कृत्रिम संक्रमण के खतरे से निपटने के लिए जनपद में 8फरवरी से 25 फरवरी तक राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन किया जा रहा है। उन्होने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत जनपद के सभी स्कूलों और आंगनबाडी केन्द्रो में 1 से 19 साल तक के बच्चों और किशोरों को एल्बेडाजोल की दवाई खिलाकर कृमि मुक्त किया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि भारत में कृमि संक्रमण जनसमस्या के रूप में उभर रहा है, डब्ल्यूएचओं के अनुमान के अनुसार भारत में 5 से 14 साल तक के उम्र के बच्चों में कृत्रिम संक्रमण का खतरा है। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का उद्देश्य जनपद के सभी बच्चों और किशोरो के स्वास्थ्य] पोषण संबंधी स्थिति और संज्ञानात्मक विकास तथा जीवन की गुणवत्ता मे सुधार के लिए उन्हे कृमि मुक्त करना है।

कृमि संक्रमण प्रत्यक्ष रूप से न दिखने पर भी बच्चों के स्वास्थ्य एवं उनके सम्रग विकास पर नाकारात्मक प्रभाव डालता है। इस नकारात्मक प्रभाव के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए एल्बेडाजोल की दवाई बच्चों एवं किशोरो को दी जाऐगी। जिलाधिकारी अटल कुमार राय ने उपस्थित समस्त अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी बच्चे को खाली पेट दवा का सेवन नही कराया जाये। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी] उप मुख्य चिकित्साधिकारी] जिला कार्यक्रम अधिकारी] जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहित समस्त एमओआईसी उपस्थित रहे।

Back to top button
E-Paper