भाजपा से निलंबित नूपुर शर्मा तथा नवीन कुमार को फिर मिली जान से मारने की धमकी

भास्कर ब्यूरो
नई दिल्ली। आपत्तिजनक टिप्पणी और विवादित बयानों के बाद भारतीय जनता पार्टी से निकाले गए नूपुर शर्मा तथा नवीन कुमार जिंदल को प्रतिदिन नई नई धमकियां मिल रही है। शनिवार को सुबह फिर नवीन कुमार तथा उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई है। इस संबंध में नवीन कुमार ने पूर्वी दिल्ली पुलिस उपायुक्त, दिल्ली पुलिस आयुक्त तथा दिल्ली के उपराज्यपाल को लिखित शिकायत दी है। वहीं, पूर्वी दिल्ली की पुलिस उपायुक्त प्रियंका कश्यप ने दैनिक भास्कर को बताया जिस मोबाइल नंबर से फोन आया है, उसकी जांच पड़ताल की जा रही है। जल्द ही उसे ढूंढ लिया जाएगा। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

भाजपा से निष्कासित नूपुर शर्मा तथा नवीन कुमार तथा उनके परिवार को तरह तरह भद्दी धमकियां दी जा रही है। जो असहनीय हैं। इस मामले में नवीन कुमार का कहना है अभी अभी मेरे और मेरे परिवार के सदस्यों की हत्या करने की धमकियाँ मिली है धमकी देने वाले ने हमको सुबह 11:38 बजे +918986133931 इस नम्बर से फ़ोन किया है। मैंने पुलिस नियंत्रण कक्ष को तुरंत सूचित कर दिया है।
उन्होंने कहा कि लगातार मिल रही धमकी के बाद उनके परिवार ने दिल्ली छोड़ दिया है। वह अन्य शहर में शिफ्ट हो गए हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि वह दिल्ली में ही हैं, सिर्फ उनके परिवार ने दिल्ली छोड़ा है।

गौरतलब है भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा तथा दिल्ली भाजपा के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। भाजपा ने कहा था कि सोशल मीडिया पर उनकी टिप्पणियों ने सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने का काम किया।

ये हैं मामला

नवीन कुमार जिंदल को पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ उनकी टिप्पणी पर विवाद के बाद भाजपा से बर्खास्त कर दिया गया था, जो निलंबित पार्टी भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान के समर्थन में भी पैगंबर के खिलाफ था। बर्खास्त नेता ने यह भी आरोप लगाया कि कुछ दिन पहले जब वह किसी से मिलने गए तो कुछ लोग उनका पीछा भी कर चुके थे। उसने पुलिस को इसके बारे में सूचित किया। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया है क्योंकि सोशल मीडिया पर ऐसी खबरें चल रही थीं कि अज्ञात लोगों ने कथित तौर पर उसके घर की रेकी की थी।

शनिवार शाम को लक्ष्मी नगर चौक में विरोध मार्च का आह्वान किया गया है। नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल द्वारा की गई टिप्पणी के खिलाफ शुक्रवार को देश के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए। इसके बाद अखंड भारत मोर्चा ने उनके पक्ष में विरोध मार्च निकालने का ऐलान किया। इस सिलसिले में पुलिस ने आयोजक संदीप आहूजा को हिरासत में लिया है।

Back to top button