नकल माफियाओं की खैर नहीं, स्थापित होगा अलग से मुख्य भवन

राजीव षर्मा,

अलीगढ। प्रदेष के उप मुख्यमंत्री दिनेष षर्मा ने कहा कि षिक्षा की व्यवस्था सधारने के लिये एतिहासिक निर्णय लिये गए हैं। परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरा व अन्य कैमरेे लगेंगे। छह पफरवरी से यूपी बोर्ड की परीक्षा होगी और सोलह दिन में इसे पूरा कर लिया जाएगा। परीक्षा होली से पहले समाप्त कर दी जाएंगी। कुंभ मेला का भी ध्यान रखा गया है। प्रष्न पत्र आउट न हो, इसके लिये अलग से और भी पेपर रखे जाएंगे। जर्जर भवन में चल रहे विद्यालयों की मान्यता रदद कर दी जाएगी।

डा0 दिनेष षर्मा पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नकल माफियाओं को यह निर्णय पसंद नहीं आ रहा है। पहले योग्य छात्रों को दरकिनार किया जाता था अब योग्यता के आधार पर ही दाखिला और नौकरी दी जा रही है। आजादी के बाद से नकल मापिफयाओं का धंधा फल फूल रहा था। प्रदेष में भाजपा की सरकार बनते ही यह धंधा चौपट हो गया है। कुछ माफिया उनको निषाना बना रहे हैं। अब दुनिया देख रही है कि यूपी माध्यमिक बोर्ड एनसीईआरटी की तर्ज पर काम कर रहा है। एक साल में ग्यारह लाख से अधिक नकल करने वाले यूपी बोर्ड परीक्षा से भाग गये थे। हर साल नकल करने वालों का आंकडा विद्यालय में बढता था। इस बार कम रह गया है। यूपी बोर्ड की तरह अतरौली बोर्ड भी मषहूर था। उन्होंने कहा कि नकल विहीन परीक्षा कराने के लिये मुख्य भवन स्थापित होगा। यहां से सभी पर निगरानी रखी जाएगी। उप मुख्यमंत्री अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का प्रष्न टाल गये वह बोले जब राम जी चाहेंगे।

Back to top button
E-Paper