PM ने विपक्ष पर बोला जोरदार हमला, कहा-जितना कीचड़ उछालोगे, उतना कमल खिलेगा

भोपाल: बीजेपी के कार्यकर्ताओं के महाकुंभ को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति ने दीमक की तरह देश को चट कर दिया है। जब यूपीए सत्ता में थी वो भाजपा शासित राज्यों को शत्रु के तरह मानते थे। जब वो गुजरात के सीएम थे और यदि कोई केंद्रीय मंत्री ने उन्हें नमस्ते किया तो अगले दिन अखबारों में वो फोटो छपती थी और मंत्री को डर लगने लगता था कि अब उसका करियर समाप्त हो चुका है।

पीएम मोदी ने कहा

तीन महापुरुषों को कभी नहीं भूल सकता है। उनमें महात्मा गांधी, राम मनोहर लोहिया और दीन दयाल उपाध्याय शामिल हैं। ये तीनों महापुरुष राष्ट्र के हर नागरिक की भलाई के लिए, कल्याण के लिए सबको प्राथमिकता देते हुए आगे बढ़ने पर बल देते थे। देश को बुलंदियों तक पहुंचाने के लिए वो रास्ता निकालते रहे।

बीजेपी कार्यकर्ताओं में उत्साह का संचार भरते हुए उन्होंने कहा कि इस समय कुछ लोग देश के अंदर महागठबंधन की कवायद में जुटे हुए हैं। लेकिन आप लोग देख सकते हैं कि गठबंधन बनने से पहले ही उसमें बिखराव नजर आ रहा है। अब जबकि वो देश की धरती पर महागठबंधन बनाने में नाकाम हो चुके हैं तो वो मौजूदा सरकार के खिलाफ गठबंधन बनाने की कवायद विदेशी धरती पर कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि विपक्ष जितना कीचड़ उछालने की कोशिश करेगा उतना शानदार कमल खिलेगा। यहीं नहीं हिंदुस्तान के हर राज्य में कमल की सरकार होगी।

तीन तलाक पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यहां तक कि इस्लामिक देशों में भी इस प्रथा को स्वीकार नहीं किया जाता है। लेकिन भारत में सिर्फ वोटबैंक की राजनीति की वजह से कुछ लोगों ने मुस्लिम बहनों के बारे में नहीं सोचा जो तीन तलाक की शिकार थीं।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आपने मेरे खिलाफ गालियों की बौछार कर दी। शब्दकोष में ऐसी कोई गाली नहीं बची जिसका उपयोग आपने मेरे खिलाफ नहीं किया। लेकिन ये देश सच जानता है। इसके साथ इस देश के लोग उन लोगों को भी आगे बढ़ने का मौका देता है जो सामान्य परिवारों से आते हैं।

100 साल पुरानी कांग्रेस पार्टी का हाल देखिए आज उन्हें छोटी पार्टियों से प्रमाण पत्र लेने की जरूरत पड़ रही है। अगर कांग्रेस के नेताओं ने पिछले चार वर्षों में आत्मनिरीक्षण किया होता तो इस तरह के हालात पैदा न हुए होते।

हमें हराने के लिए भारत से बाहर गठबंधन खोज रही कांग्रेस: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी के पास आज समर्पित लोग ही नहीं हैं।’ उन्‍होंने कहा कि केंद्र सरकार तीन तलाक पर अध्‍यादेश लेकर आई है लेकिन वोट बैंक की राजनीति के कारण मुस्लिम महिलाओं की चिंता कांग्रेस को नहीं हो रही है जिसकी एक महिला नेता हैं। उन्‍होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी हिन्दुस्तान में गठबंधन करने में सफल नहीं हो रही है तो वह भारत के बाहर गठबंधन खोज रही है। कांग्रेस पार्टी ने सत्ता खोने के बाद अपना संतुलन भी खो दिया है। कांग्रेस पार्टी देश के ऊपर अब बोझ बन गयी है।’

दरअसल मोदी पाकिस्तान के मंत्रियों के उस ट्वीट के संदर्भ में अपनी बात रख रहे थे जिनमें राफेल डील में हुए कथित घोटाले के राहुल गांधी के आरोपों को कोट किया गया था। पीएम ने कहा, ‘हम समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए काम कर रहे हैं। वोटबैंक की राजनीति के दीमक से देश को मुक्त करवाना बीजेपी की जिम्मेदारी, इससे देश का काफी नुकसान हुआ है। वोटबैंक की राजनीति ने समाज के तानबाने को नुकसान पहुंचाया। अगडे़ और पिछड़े का भेद काम नहीं करेगा। हमारे लिए दल से बड़ा देश है।’

2001 से कांग्रेस मेरे ऊपर कर रही हमले: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी ने 2001 से मेरे खिलाफ हरेक गाली का इस्‍तेमाल किया है लेकिन आपने जितना कीचड़ उछाला है, उतना कमल खिला है। हर कोने और हर बूथ और हर घर में कमल खिलेगा।’ पीएम मोदी ने बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह की जमकर प्रशंसा की। उन्‍होंने कहा कि अमित शाह जैसा अध्‍यक्ष होना चाहिए जिनके नेतृत्‍व में 19 राज्‍यों में पार्टी की सरकार बनी। पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय को याद करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम एकात्‍म मानववाद की राह पर चलते हैं। उन्‍होंने कहा क‍ि सबसे बड़ी पार्टी होना गर्व की बात है। महापुरुषों का हम पर कर्ज है। देश तीन महापुरुषों को भूल नहीं सकता है। ये हैं महात्‍मा गांधी, राम मनोहर लोहिया और पंडित दीन दयाल उपाध्‍याय। उन्‍होंने कहा कि सबका साथ, सबका विकास हमारा नारा है।

कांग्रेस बताए उसके लिए सुरक्षा प्राथमिकता है या नहीं: शाह 
इससे पहले कार्यक्रम में बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने भी चुनावी शंखनाद किया और कार्यकर्ताओं से आगामी पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव में बीजेपी को जीत दिलाने की अपील की। उन्‍होंने कहा क‍ि विधानसभा चुनाव में बीजेपी कार्यकर्ता पार्टी के पक्ष में हवा बनाएं ताकि लोकसभा चुनाव तक यह सुनामी बन जाए। उन्‍होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी जमकर निशाना साधा और कहा कि उन्‍हें राज्‍य में वोट मांगने का हक नहीं है। राहुल गांधी वर्ष 2014 के बाद के चुनाव परिणाम देख लें, किसकी सरकार चुनाव में बनी है।

उन्‍होंने कहा कि जहां एक भी सीट नहीं होती थी वहां बीजेपी ने सरकार बनाई है। जब कार्यकर्ताओं की फौज चुनाव प्रचार के लिए उतरेगी, विपक्ष को दिन में तारे नजर आएगी। उन्‍होंने राहुल गांधी से सवाल किया कि कांग्रेस के लिए सुरक्षा प्राथमिकता है या नहीं। शाह ने ऐलान किया कि राजमाता विजया राजे सिंधिया शताब्‍दी वर्ष मनाया जाएगा।

राहुल गांधी तो फन मशीन हैं: शिवराज सिंह चौहान
वहीं कार्यक्रम में मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। उन्‍होंने कहा, ‘मैं तो घोषणा मशीन हूं, लेकिन राहुल गांधी तो फन मशीन हैं। घोषणा वही करते हैं, जिनके मन में संकल्प हो मध्‍य प्रदेश को नंबर एक बनाने की।’ शिवराज ने कहा कि विधानसभा चुनाव के लिए हमारी सेना तैयार है और सेनापति तय है लेकिन कांग्रेस में सीएम प्रत्‍याशी अभी स्‍पष्‍ट ही नहीं है।

बता दें कि बीजेपी का दावा है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा राजनीतिक समागम है जिसमें 12 लाख कार्यकर्ता जुटे हैं। इस कार्यक्रम में 100 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान जताया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक करीब 15 करोड़ रुपये की लागत से तंबू आदि की व्यवस्था की गई है। कार्यक्रम में इतने बड़े पैमाने पर कार्यकर्ताओं की जुटाने की कोशिश के तहत भोपाल के सबसे बड़े मैदान जंबूरी में इसका आयोजन किया जा रहा है।

Back to top button
E-Paper