पोस्ट ऑफिस वाले 1 अप्रैल से पहले कर ले ये जरूरी काम नहीं…तो ब्याज से धो बैठेंगे हाथ     

लखनऊ। पोस्ट ऑफिस ने एक अप्रैल 2022 से किसी भी तरह के स्मॉल सेविंग स्कीम जैसे वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS), मासिक निवेश योजना (MIS), टाइम डिपॉजिट अकाउंट आदि में निवेश करने के लिए अब एक बैंक खाता खोलना अब जरूरी कर दिया है। इस स्मॉल सेविंग अकाउंट में जमा राशि पर मिलने वाला ब्याज आपको पोस्ट ऑफिस की सेविंग अकाउंट या बैंक अकाउंट में ही जमा किया जाएगा।

अगर आप पोस्ट ऑफिस के नए नियम के अनुसार निवेश नहीं करेंगे तो आपको मिलने वाली मंथली, तिमाही, छिमाही और सालाना मिलने वाले ब्याज का फायदा नहीं मिलेगा। पोस्ट ऑफिस के मुताबिक ग्राहक जल्द से अपने पोस्ट ऑफिस या बैंक सेविंग अकाउंट को खुलवाकर उसे पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम, मासिक बचत योजना आदि योजनाओं का ब्याज अब उस अकाउंट जमा किया जाएगा।

अगर आपके पास पहले से बैंक में या डाकघर में खाता है, तो उसे पोस्ट ऑफिस की स्मॉल सेविंग अकाउंट से लिंक कराएं। केंद्र सरकार के द्वारा जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक बिना सेविंग अकाउंट के आपको स्मॉल सेविंग अकाउंट में ब्याज नहीं मिलेगा। इसलिए 31 मार्च 2022 से पहले इस जरूरी काम को निपटा लें।

इन लोगों को नहीं मिलेगा ब्याज

जिन लोगों ने पोस्ट ऑफिस में अपने सेविंग अकाउंट को एमआईएस, एससीएसस और टीडी के साथ लिंक नहीं किया है। उन्हें पोस्ट ऑफिस की ओर से इंवेस्ट की गई रकम पर ब्याज नहीं दिया जाएगा। बल्कि पोस्ट ऑफिस की ओर से इस ब्याज को ट्रेजरी अकाउंट में जमा करा दिया जाएगा।

पोस्ट ऑफिस के मुताबिक एक अप्रैल से सभी योजनाओं पर मिलने वाली ब्याज को केवल निवेश के बचत अकाउंट या फिर योजना से जुड़े अकाउंट में ही ट्रांसफर किया जाएगा। ऐसे में अगर आपने अभी तक अपनी इंवेस्टमेंट की गई रकम के ब्याज के लिए बचत खाता नहीं खुलवाया है, तो इसे जल्द खुलवा लेना चाहिए।

Back to top button