योगी सरकार का बड़ा फैसला, रावण होंगे रिहा

लखनऊ :  उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ ने भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर उर्फ रावण को लेकर बड़ा फैसला लिया है। योगी सरकार चंद्रशेखर उर्फ रावण को समय से पहले रिहा करेगी। रावण को पहले एक नवंबर को रिहा किया जाना था। यूपी सरकार द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया गया है कि चंद्रशेखर उर्फ रावण की माता के प्रत्यावेदन एवं वर्तमान परिस्थितियों के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सहानुभूति पूर्वक समय पूर्व रिहाई का निर्णय लिया गया है।

आपको बता दें कि भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर ‘रावण’ को 2017 के सहारनपुर दंगों में कथित तौर पर शामिल होने के आरोप में जून 2017 में गिरफ्तार किया गया था। चंद्रशेखर पर जातीय दंगे फैलाने का आरोप था बाद में उन्हें इलाहाबाद हाइकोर्ट से जमानत मिल गई थी। बाद में राज्य सरकार ने उन पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगा दिया।

रासुका के तह सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए 12 महीने तक प्रशासनिक हिरासत में लेने की इजाजत होती है। रासुका के खिलाफ भीम आर्मी ने इलाहाबाद हाइकोर्ट में भी अपील की थी जो खारिज हो गई थी।

मई 2017 में सहारनपुर के शब्बीरपुर गांव में राजपूतों और दलितों के बीच हुए संघर्ष में कथित तौर पर दलितों के घर जला दिए गए थे। इस दौरान एक शख्स की मौत हो गई थी जबकि 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। चंद्रशेखर की रिहाई को लेकर भीम आर्मी के  सदस्य समय-समय पर विरोध प्रदर्शन भी करते रहे हैं। कुछ समय पहले भीम आर्मी ने जंतर मंतर पर भी प्रदर्शन किया था।

Back to top button
E-Paper