घिरोर के ईओ फंसने के बाद बना रहे अधीनस्थों पर दबाव

रुपए लेने के वीडियो वायरल होने के बाद मचा हुआ है घमासान

भास्कर समाचार सेवा

मैनपुरी/घिरोर। ईओ घिरोर के रुपए लेने के मामले में अभी जांच ठीक से शुरु भी नही हो पाई थी, कि मंगलवार को एक और ऑडियों वायरल हुआ है, इस ऑडियो के वायरल होने के बाद घिरोर नगर पंचायत में उठापटक मची हुई है। वायरल ऑडियो में व्यक्ति साफ कह रहा है कि ईओ ने अपने वचाव के लिए उनके ऊपर दबाव बनाकर नगर पंचायत की रसीद काटने के लिए कहा है।
मंगलवार को सोशल मीडिया पर एक ऑडियो वायरल हुआ। इसके वायरल होने के बाद जनपद में सनसनी फैल गई। मंगलवार को वायरल ऑडियो में बोलने वाला कह रहा है कि ईओ अपने वचाव में बहुत ज्यादा भागदौड़ करके इधर उधर पैर मार रहा है। ईओ ने उनके ऊपर भी दबाव बनाकर 25 हजार रुपए की रसीद काटने के लिए कहा है, लेकिन उनके द्वारा रसीद काटने के लिए मना कर दिया गया है। वायरल ऑडियो में लोगो की तरफ से दावा करके घिरोर नगर पंचायत के वरिष्ठ लिपिक अतीक अहमद और एक अन्य नगर पंचायत के बाबू की आवाज बताई जा रही है। अगर वायरल ऑडियो के अनुसार देखा जाएं तो साफतौर पर कहा जा सकता है कि ईओ के द्वारा घूस के ही रुपए लिए गए है।
घिरोर नगर पंचायत के सीसीटीवी फुटेज की जांच होगी।
इससे चार दिन पूर्व भी एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसके बाद घिरोर नगर पंचायत के ईओ नीलाव शल्या बहुत बड़ी मुसीबत में फंस गए हैं। वायरल हुए वीडियो की जांच डीएम के निर्देश पर एडीएम रामजी मिश्रा द्वारा की जा रही है। अब इस मामले को दबाने की कोशिशें शुरू हो गई हैं। लेकिन विरोधी खेमा ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम पर वीडियो वायरल कर रहा है और प्रशासन की कार्रवाई पर सवाल उठा रहा है। घिरोर नगर पंचायत के ईओ नीलाव शल्या का चार दिन पूर्व रुपए लेते वीडियो वायरल हुआ था। वीडियो वायरल होने के बाद डीएम अविनाश कृष्ण सिंह ने नाराजगी जताई थी। डीएम ने पूरे मामले की जांच एडीएम को सौंप दी है। एडीएम ने भी मंगलवार को कहा कि वायरल वीडियो की जांच शुरू करा दी गई है। ईओ के नगर पंचायत स्थित कार्यालय के सीसीटीवी कैमरों के फुटेज मंगाए गए हैं। कार्यालय के कर्मचारियों से भी पूछताछ होगी। अगले कुछ दिनों में इस मामले की जांच पूरी कर ली जाएगी और रिपोर्ट डीएम को दे दी जाएगी।

Back to top button