कोविड से बंद प्राइमरी स्कूल खुले, बच्चों में खुशी की लहर


हरिकिशन अग्रहरि
भास्कर न्यूज, अहरौरा।

कोविड-19 के चलते बंद चल रहे प्राथमिक विद्यालय लगभग 11 माह के बाद एक मार्च को खुले। विद्यालय के प्रथम दिन बच्चों की अगवानी के लिए विद्यालयों को गुब्बारे सहित तरह तरह से सजाकर विद्यालय पहुंचने वाले बच्चों की भव्य अगवानी उनके माथे पर तिलक लगाकर किया गया।

इसके साथ ही बच्चों को प्रेरित किया गया कि वे विद्यालय आए और पठन-पाठन को एक नया आयाम देते हुए गति दे।
बता दें कि कोविड-19 के कारण लगभग 14 मार्च 2020 से विद्यालय बंद चल रहे थे। कोरोना संक्रमण कम होने के बाद 1 मार्च 2021 से विद्यालय पूरी सुरक्षा एवं सतर्कता के साथ खोला गया।
विद्यालय में पहुंचने वाले बच्चों को बताया गया कि वह सावधानी का पालन करते हुए लगभग एक एक मीटर की दूरी बनाकर क्लास रूम में बैठे।
इसके साथ ही साफ सफाई पर विशेष ध्यान दें।
समय-समय पर हाथ धूलते रहे और मास्क का प्रयोग करें। विद्यालय खुलने के पूर्व विद्यालयों की साफ सफाई भी कराई गई ।वही प्रयास किया गया की विद्यालयों में स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाए।
सोमवार को क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय रोशनहर, प्राथमिक विद्यालय अहरौरा प्रथम, प्राथमिक विद्यालय अहरौरा डीह , प्राथमिक विद्यालय मानिकपुर, प्राथमिक विद्यालय इस्लामिया, कम्पोजिट विद्यालय अहरौरा कन्या, प्राथमिक विद्यालय जिगना सहित सभी विद्यालयों में बच्चे पहुंचे और वहां के अध्यापकों प्रधानाध्यापक ने बच्चों के माथे पर तिलक लगाकर उनका स्वागत किया।

प्राथमिक विद्यालय रोशनहर में प्रधानाध्यापक अरविंद कुमार त्रिपाठी ने बच्चों के माथे पर तिलक लगाकर बच्चों का स्वागत किया और स्वच्छता के विषय में भी बताया।

पहले दिन ही बच्चों को मीनू के अनुसार भोजन भी दिया गया। इसके साथ ही फल भी वितरित किया गया। बच्चे स्कूल पहुंचकर खुशियों का इजहार किया और सहपाठियों के साथ मिलकर पढ़ाई के साथ-साथ खूब मस्ती भी किये।

Back to top button
E-Paper