कानपुर में रेप पीड़िता युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, सामने आई ये बड़ी वजह

कानपुर । सचेंडी थाना क्षेत्र में एक रेप पीड़िता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों का आरोप है कि बलात्कारी के परिजन समझौते का दबाव बना रहे थे और आये दिन परेशान करते थे। जिससे आजिज होकर युवती ने यह कदम उठाया है। वहीं पुलिस का कहना है कि दोनों के घर आमने-सामने हैं और गुरुवार को गाली-गलौज हुआ था, जिससे क्षुब्ध होकर युवती ने आत्महत्या की है। फिलहाल पुलिस ने अभियुक्त के भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है।

सचेंडी थाना क्षेत्र के बछऊपुर गांव के रहने वाले रामप्रसाद के बेटे सचिन ने पड़ोस की युवती के साथ करीब छह माह पहले उस समय बलात्कार किया था ज बवह शौच क्रिया के लिए खेतों की ओर जा रही थी। पीड़िता की तहरीर पर थानाध्यक्ष शेष नारायण पाण्डेय ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को जेल भेजा था। अभियुक्त अभी भी जेल में है और इधर पीड़िता के परिजनों के मुताबिक अभियुक्त के परिजन बराबर समझौते का दबाव बना रहे थे।

जिससे आजिज होकर पीड़िता ने देर रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर शुक्रवार को पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसएसपी अनंत देव ने बताया कि जानकारी मिली है कि दोनों के घर आमने-सामने हैं और गुरुवार को देर शाम रेपिस्ट के भाई सोनू और राहुल ने पीड़िता के परिजनों को गाली-गलौज किया था। जिससे पीड़िता ने इस तरह का आत्मघाती कदम उठाया है। बताया कि अभियुक्त के भाइयों को गिरफ्तार कर लिया गया है और परिजनों की ओर से तहरीर पर धारा 306 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Back to top button
E-Paper