भाजपा नेता बोले -रावण का जन्म लंका में नहीं, दिल्ली के पास नॉएडा में हुआ था..

Image result for रावण का जन्म लंका में नहीं

पणजी: बीजेपी सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने यहां रविवार को कहा कि रावण का जन्म नोएडा में हुआ था, न कि लंका में, जैसा कि तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुनानिधि का मानना था कि लंका के राजा रावण उन्हीं की तरह एक द्रविड़ थे। दक्षिण गोवा में एक समारोह में स्वामी ने दावा किया कि रावण का जन्म राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के नोएडा स्थित बिसरख गांव में हुआ था।

स्वामी ने कहा, ‘राम इन लोगों के लिए नफरत के पात्र थे, क्योंकि वह उत्तर से थे और उन्होंने लंका के रावण को मारा था और वह द्रविड़ थे। रावण लंका से नहीं था। उसका जन्म दिल्ली के समीप एक गांव में हुआ था। उस गांव का नाम बिसरख है। आप वहां जा सकते हैं और देख सकते हैं। उस इलाके को आज नोएडा कहते हैं

राम इन लोगों के लिए नफरत के पात्र थे, क्योंकि वह उत्तर से थे और उन्होंने लंका के रावण को मारा था और वह द्रविड़ थे. रावण लंका से नहीं था. उसका जन्म दिल्ली के पास एक गांव में हुआ था. उस गांव का नाम बिसरख है. आप वहां जा सकते हैं और देख सकते हैं. उस इलाके को आज नोएडा कहते हैं.

उन्होंने कहा कि रावण ने मानसरोवर में तपस्या की थी, जिसके बाद भगवान शिव ने उन्हें एक वरदान दिया। इसके फलस्वरूप रावण लंका गया और अपने चचेरे भाई कुबेर को हराकर ‘लंका नरेश’ बन गया। उन्होंने कहा, ‘वह ब्राह्मण था..वह सामवेद का ज्ञाता था और करुणानिधि मानते थे कि वह उनके जैसे हैं। और इसलिए करुणानिधि मेरे द्वारा किए गए उस हरकुछ के खिलाफ थे,

जो द्रविड़ विचारों के अनुरूप नहीं था।’ उन्होंने कहा, ‘इसलिए, मैं आपसे कहता हूं कि सबसे पहले, जानें कि हम सब एक हैं। हम कहीं दूर की जगह से नहीं आए हैं, जैसा कि अंग्रेजों ने अपनी इतिहास की किताब में लिखा है।’

Back to top button
E-Paper