अगर आप का भी इस बैंक में अकाउंट है, तो ये खबर जरूर पढ़े….

नई दिल्ली: SBI ने 1295 ब्रांच के नाम और IFSC कोड में बदलाव किया है। दरअसल स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 6 सहयोगी बैंक और भारतीय महिला बैंक का विलय हुआ है। इसी कारण बैंक ने अब नए तरीके से बैंक ब्रांच के नाम और IFSC कोड तय किए हैं। एसबीआई ने इसकी लिस्ट प्रकाशित की है। SBI में भारतीय महिला बैंक और सहयोगी बैंकों का विलय 1 अप्रैल 2017 को हुआ था। इसके बाद स्टेट बैंक बहुत बड़ा हो गया।

बैंक के मुताबिक 1,295 ब्रांच के IFSC कोड बदले गए हैं। अगर आप किसी SBI ग्राहक को ऑनलाइन पेमेंट करेंगे तो आपको IFSC कोड की जरूरत होगी। इस कोड के जरिए ही बैंकों में पैसे ट्रांसफर होते हैं। IFSC यानि इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड। ये 11 डिजिट का यूनिक अल्फा न्यूमेरिक कोड होता है जो फंड ट्रांसफर के लिए उपयोग होता है। इसके जरिए RTGS, NEFT और IMPS पेमेंट संभव होता है।

SBI में स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर और स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर और जयपुर का विलय हुआ था। SBI ने जो IFSC कोड बदले हैं अधिकतर वो इन्हीं बैंकों के हैं। अगर आप अब किसी को फंड ट्रांसफर करेंगे तो आपको इन कोड की जरूरत होगी। इसमें अहमदाबाद, अमरावती, बंगलौर, भोपाल, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, चेन्नई, दिल्ली, हैदराबाद, जयपुर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई, नई दिल्ली, पटना, तिरुवनंतपुरम जैसे जोन की 1300 ब्रांच शामिल हैं।

SBI को विश्व के ग्लोबल बैंकों की सूची में 53वां स्थान मिला है। 30 जून 2018 तक बैंक के पास कुल 33.45 लाख करोड़ रुपए की पूंजी थी। टर्म डिपॉजिट के आधार पर SBI सबसे बड़ा बैंक है। इसके पास कुल 22,428 बैंक ब्रांच हैं। बैंकों के विलय से SBI की कुल 1,805 ब्रांच और 244 ऑफिस घट गए। बैंक के पास 42 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं। SBI में कुल 2.7 लाख कर्मचारी काम करते हैं।

Back to top button
E-Paper