अवैध मिट्टी खनन पर एसडीएम शुभांगी शुक्ला की छापेमारी

भास्कर समाचार सेवा

मुरादनगर । क्षेत्र में अवैध खनन का कार्य धड़ल्ले से हो रहा है प्रशासनिक अधिकारी कभी कोई कार्यवाही कर गाड़ी आदि सीज कर देते हैं लेकिन मिट्टी माफियाओं का काम उससे बंद नहीं होता 2,4 गाड़ी पकड कर अधिकारी भूल जाते हैं लेकिन उनके अधीनस्थ उनके किए धरे पर पानी फेर देते हैं ।गाड़ियां छूट जाती हैं सेटिंग्स के कुछ रेट बढ़ जाते हैं और फिर कई महीने तक अधिकारियों कर्मचारियों को अवैध खनन दिखाई देना बंद हो जाता है ।खनन माफियाओं के खिलाफ सरकार की सख्ती के आदेशों पर अधिकारी फील्ड में निकलते हैं गुड वर्क दिखाने के लिए माफियाओं की ही गाड़ियों और उनके लोगों को पकड़ लिया जाता है लेकिन मिट्टी का सोना बनाने वालों पर इससे कोई फर्क नहीं पड़ता ।क्षेत्र के रावली, सुराना ,नेकपुर ,आदि गांवों में रात दिन अवैध रूप से मिट्टी खनन होता है वह भी बड़ी बड़ी मशीनों से और मिट्टी से भरी गाड़ियां हाईवे से थाने चौकियों को ठेंगा दिखाते हुए आगे निकल जाती हैं क्योंकि पुलिस उस और देखती नहीं शासकीय विभाग के कर्मचारी इस ओर से अपने मिलने वाले लाभों के लिए आश्वस्त रहते हैं ।यहीं तक नहीं खनन माफिया किसानों के खेतों से भी चोरी से मिट्टी खनन कर किसानों को बड़ा नुकसान पहुंचा रहे हैं मिट्टी खोदकर खेतों को गड्ढे बना दिया गया । कई गांवों के किसान भी इस बारे में लिखित शिकायत उच्चाधिकारियों से कर चुके हैं लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात ही रहा ।नई कार्रवाई में सुराना, से ट्रैक्टर ,खुदाई की मशीन पकड़ी गई है ।स्थानीय लोगों ने बताया कि मिट्टी खनन करने वाले पुलिस चौकियों के सामने से होकर गुजर जाते हैं रुकते हैं।

Back to top button