सीतापुर : आईकानिक ऋण संवर्धन कार्यक्रम का हुआ आयोजन

सीतापुर। देश के प्रमुख राष्ट्रीयकृत एवं जिले के अग्रणी बैंक इंडियन बैंक के तत्वाधान में सिविल लाइन सीतापुर प्रांगण में भारत सरकार, वित्त मंत्रालय, वित्तीय सेवाएं अनुभाग के निर्देशानुसार एक आईकानिक क्रेडिट आउटरिच प्रोग्राम का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के समस्त राष्ट्रीयकृत एवं निजी क्षेत्र के बैंको ने स्टाल लगाकर अपने उत्पादों का प्रचार-प्रसार किया। ग्राहकों को उनकी ऋण आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु सहज एवं शुलभ ठंग से ऋण सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में सार्थक प्रयास किए।

देश की आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में भारत सरकार, वित्त मंत्रालय,वित्तीय सेवाएं अनुभाग के निर्देश के अनुक्रम में देश की सभी वित्तीय संस्थाओं द्वारा आईकानिक सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। उक्त आईकानिक ऋण संवर्धन कार्यक्रम का आयोजन भी इसी क्रम में किया गया द्य इस अवसर पर सीतापुर जिले के माननीय सांसद श्रीमान राजेश वर्मा जी, जिलाधिकारी अनुज सिंह, एवं इंडियन बैंक के सीतापुर अंचल प्रमुख श्री विनीत बाजपेयी जी सहित जिले में कार्यरत सभी बैंको के जिला समन्वयक उपस्थित रहे ।

आईकानिक आउटरिच प्रोग्राम का आयोजन

कार्यक्रम का शुभारम्भ मंचासीन अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर किया गया द्यअपने स्वागत सम्बोधन में अग्रणी जिला प्रबंधक श्री अनल कुमार जी ने कहा कि भारत देश अपनी आजादी की 75वी वर्षगाठ मना रहा है द्य इस वर्षगांठ को भारत के यशश्वी प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी ने देश के नागरिकों में स्वप्रेरण की भावना एवं स्वरोजगार की स्थापना को साकार रूप देने तथा आत्मगौरव की अनुभूति कराने की दिशा में आजादी का अमृत महोत्सव के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। अग्रणी बैंक कक्ष सीतापुर राष्ट्र की आर्थिक मजबूती एवं स्वावलम्बन की दिशा में सरकार द्वारा बनायी गयी नीतियों के सफल क्रियान्वयन हेतु कृत संकल्प है।

जिलाधिकारी महोदय ने अपने सम्बोधन में कहा कि ग्राहकों में वित्तीय साक्षरता एवं जागरूकता बढ़ाने की दिशा में भारत सरकार वित्त मंत्रालय द्वारा उठाए गए कदम अत्यंत प्रभावी है तथा उन दिशा-निर्देशों के अनुपालन में अग्रणी बैंक कक्ष अपनी भूमिका का सफल निर्वहन कर रहा है द्य सामाजिक सरोकार की योजनायें एवं सीतापुर जिले का शतप्रतिशत डिजटलीकरण का कार्य निरन्तर प्रगति पर है।

सांसद राजेश वर्मा जी ने अपने सम्बोधन में कहा कि भारत सरकार का उद्देश्य समाज में स्वरोजगार स्थापित करने की दिशा में बैंको एवं वित्तीय संस्थाओं के दायित्व को और अधिक प्रभावी बनाना है क्योंकि समाज के पिछड़े वंचित दलित वर्ग की आर्थिक आवश्यकताओं की पूर्ति कर उन्हें समाज की मुख्य धारा से जोड़ना है।

इस दिशा में देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का यह सपना है कि आजादी के अमृत महोत्सव देश की स्वत्रंतता की 75वी वर्षगांठ पर न केवल देश बल्कि देश का प्रत्येक नागरिक आर्थिक रूप में स्वालंबी हो इस दिशा में भारत सरकार समय पर देश के बैंको के माध्यम से इस प्रकार की योजनाओं का शुभारम्भ किया करती है।

इंडियन बैंक के उप महाप्रबंधक एवं अंचल प्रमुख विनीत बाजपेयी जी ने अपने सम्बोधन में कहा कि हम माननीय प्रधानमंत्री महोदय के सपनों को साकार करने की दिशा में स्वरोजगार स्थापना को मूर्त रूप देने की दिशा में अपने ऋण उत्पादों में समय दृ समय पर नए प्रयोग करते रहते है, हमारा बैंक भी ग्राहकों को सहज एवं शुलभ ऋण सुविधा उपलब्ध कराता है ।

आज के इस आईकानिक ऋण संवर्धन कार्यक्रम में रु० 87.42 करोड़ की ऋण राशियां विभिन्न उत्पादों जैसे प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टार्टअप, स्टैण्डअप इण्डिया, गृह ऋण, कार ऋण आदि में स्वीकृत एवं संवितरित की गयी द्य बैंको तक जनमानस की पहुँच सहज एवं सरल हो इस दिशा में हम सभी बैंक कर्मी भारत सरकार द्वारा लिए गए सभी निर्णयों के सफल क्रियान्वयन हेतु संकल्परत है।

धन्यवाद ज्ञापन अमित पाण्डेय मुख्य प्रबंधक एवं कार्यक्रम का संचालन डॉ० अंजनी कुमार पाण्डेय वरिष्ठ प्रबंधक (राज भाषा) ने किया इस अवसर पर मुख्य शाखा के सहायक महाप्रबंधक मनीष गुरुंग जी, भारतीय स्टेट बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक विक्रांत तिवारी जी, मुख्य प्रबंधक एस०एच०आई० रिजवी जी, मुख्य प्रबंधक आशुतोष मौर्या जी, वरिष्ठ प्रबंधक, आर०के० दास ।

Back to top button