विधानसभा की कैंटीन में कार्यरत कर्मचारी ने काटी अपनी गर्दन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा में ठेके पर चलने वाली कैंटीन में कार्यरत कर्मचारी अजय कश्यप ने गुरुवार को अपनी गर्दन काट ली। कैंटीन के प्रबन्धक ने उसे आनन फानन में सिविल अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सक ने उसे ट्रामा रेफर कर दिया। विधानसभा में कार्यरत कर्मचारियों के लिए ठेके पर चलने वाली कैंटीन में अजय कश्यप काम करता आ रहा है। गुरुवार को अजय ने अपनी गर्दन पर चाकू से वार कर खुद को घायल कर लिया। वहां मौजूद साथी कर्मचारियों ने प्रबन्धक विशाल त्रिपाठी को इसकी सूचना दी।

विशाल ने अपने कर्मचारी अजय को तत्काल ही सिविल अस्पताल पहुंचाया।  सिविल अस्पताल के आक्समिक सेवा विभाग के चिकित्सक ने अजय के रक्त बहाव को देखते हुए उसे ट्रामा सेंटर के लिए भेज दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस अधीक्षक पश्चिमी सर्वेश चन्द्र मिश्रा ने बताया कि पुलिस के सामने अजय कश्यप बार बार कह रहा था कि उसे भगवान बुला रहें हैं। 

उन्होंने बताया कि उसके परिजन ने पुलिस को बताया है कि कुछ दिनों से अजय मानसिक रुप से बीमार था। वहीं प्रबन्धक विशाल ने पुलिस को जानकारी दी कि उसकी तनख्वाह को लेकर कोई समस्या नहीं है। फिलहाल, अजय कश्यप का आॅपरेशन के बाद बयान दर्ज होगा। 

Back to top button
E-Paper