सुल्तानपुर : उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सरकार की गिनाई उपलब्धियां

सुल्तानपुर। उत्तर प्रदेश’ के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बुधवार को कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने एक बार कहा था कि ‘‘दिल्ली से एक रुपया भेजा जाता है तो लाभार्थी तक 15 पैसे ही पहुंचते हैं लेकिन भाजपा सरकार में पैसा सीधे लाभार्थी के खाते में पहुंच रहा है।

मौर्य ने यहां सुलतानपुर रामनरेश त्रिपाठी सभागार में बात करते हुए कहा, जिस समय कांग्रेस सत्ता में थी, उस समय पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने कहा था कि अगर दिल्ली से एक रुपया भेजा जाता है, तो लाभार्थी को 15 पैसे मिलते हैं। समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस के शासनकाल में आवास योजनाएं लागू की गईं, तो वह भ्रष्टाचार की भेट चढ़ जाती। उन्होंने कहा कि डबल-इंजन की सरकार में उत्तर प्रदेश समेत पूरे देश में लोगों को गरीब कल्याण योजना का लाभ मिल रहा है।

सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों को किया सम्मानित

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि ’2017 से 2022’ के बीच प्रदेश में लोगों को ’44 लाख’ आवास दिया गया, वहीं प्रदेश में ’14 करोड़’ से अधिक लोगों को ’मुफ्त राशन’ मिल रहा है। उप मुख्यमंत्री ने दावा किया कि ’2017’ के पहले सपा की सरकार में कुल ’18 हजार’ आवास का आवंटन किया गया था। लेकिन जब सपा की सरकार हटी तो आवासों का निर्माण ही नहीं हो पाया था।

उन्होंने कहा, जब हमारी सरकार आई तो पांच साल में लोगों को 44 लाख’ आवास उपलब्ध कराए गए। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत देश में कुल ’3 करोड़’ लोगों को आवास की सुविधा मिली है। उन्होंने कहा कि इस योजना में ’महिला सशक्तीकरण’ का ध्यान भी रखा गया। उन्होंने कहा कि घरों के स्वामित्व प्रमाणपत्र महिलाओं के नाम से या संयुक्त नाम से दिए गए हैं।

साथ ही लोगों को शौचालय, मुफ्त बिजली कनेक्शन, मुफ्त गैस कनेक्शन’ दिया जा रहा है और पानी की ’पाइप लाइन’ लोगों के घरों तक पहुंचाई जा रही है। मौर्य ने अपने बचपन को याद करते हुए कहा कि जब रात में पानी बरसता और छत से पानी टपकता था तो बांस की सीढ़ी लगाकर बिना छाते के खाद की बोरी से सिर ढंककर छत पर जाना पड़ता था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने इस कष्ट से देश के ’तीन करोड़ लोगों को मुक्ति दिलाई,’ जो बहुत बड़ी बात है। उन्होंने कहा, कि ’कोरोना महामारी के दौरान लोगों के पास रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया था। इसको ध्यान में रखते हुए ’मुफ्त राशन’ का वितरण शुरू किया गया।

इसके माध्यम से पूरे देश में ’244 लाख’ मीट्रिक टन खाद्यान राज्यों को आवंटित किया गया है। जिसे लोगों को बांटा जा रहा है। पूरे देश में ’80 करोड़’ लोगों को और उत्तर प्रदेश में ’14 करोड़’ से अधिक लोगों को इसका लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में तो लोगों को ’राशन की डबल डोज मिल रही है। साथ ही ’तेल, दाल और नमक’ भी दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अंत्योदय कार्ड धारकों को एक ’किलोग्राम चीनी’ भी मुफ्त दी जा रही है। उन्होंने कहा कि ’एक देश, एक राशन कार्ड’ योजना के तहत पूरे देश में ’10 फीसदी’ लोगों ने दूसरी जगह से राशन लिया हैं।

Back to top button