सुल्तानपुर : जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है- क्लब अध्यक्ष

कटका-सुल्तानपुर। कटका क्लब के बैनर तले कटका खानपुर में सफाई न होने पर अनोखे अंदाज में ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए खुद स्वच्छता की तरह कदम बढ़ाया। बीते कई सालों से कटका खानपुर में सफाई कर्मियों की गैर मौजूदगी थी जिसको लेकर हाल में ही प्रशासन को अवगत कराया गया। लेकिन कोई फर्क नही पड़ा जिसे देखते हुए शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर उपस्थित कटका क्लब के अध्यक्ष सौरभ मिश्रा ने कहा कि शासन द्वारा गांवों में साफ सफाई के लिए सफाई कर्मियों की नियुक्ति की गई है।

साथ ही स्वच्छ गांव स्वच्छ भारत का सपना साकार करने के लिए लोगों को जागरूक करने के साथ ही विभिन्न संगठनों द्वारा इसके लिए शपथ भी दिलाई गई है। लेकिन इसकी जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है। अधिकांश गांवों की गलियों में कूड़े कचरे उगे घास फूस और कचड़े से भरी नालियां बजबजा रही है और साफ सफाई व्यवस्था बेपटरी होती जा रही है। इकलौता कूड़े का डिब्बा बजबजाती नालियों के बीच में लगा है। जबकि साफ स्थान पर सूखा और गीला कचड़े के डस्टबिन होने चाहिए। बजबजाती नालियों के कारण लोग बीमार हो सकते हैं। इस क्षेत्र में कोई विकास कार्य नहीं दिख है।

यहीं कारण है कि लोग गुस्से में हैं। जिम्मेदरान लोगों की लापरवाही से सफाई कर्मी द्वारा गांव में सफाई नहीं की जा रही है। इस मौके पर उपस्थित कटका क्लब के सदस्य सुरेश ने कहा कि लगभग एक सालों से सफाई कर्मी गांव में नहीं आ रहा है। अगर कभी आता भी है तो उसका पता नहीं चलता है कि वह कहां है। इसका नतीजा है कि गांव की गलियों में घास फूस के साथ गंदगी का अंबार लगा हुआ है। इसके लिए ग्रामीण कई बार गुहार लगाए। लेकिन स्थिति जस की तस है। यही हाल रहा तो आने वाले समय मे बड़ा आंदोलन करेंगे। इस कार्यक्रम में डब्लू मिश्रा, राजकुमार शर्मा, नंदलाल गुप्ता, कुलदीप गुप्ता, पप्पू शर्मा, राज कुमारी, शंकुन्तला, हौसिला प्रसाद शर्मा व अन्य लोग मौजूद रहे।

Back to top button