अंधविश्वास : ‘ज्योतिषी ने कहा था- हो जाएगी 15 लोगों की मौत….

बेंगलुरू। कर्नाटक में एक बड़ा अंधविश्वास  देखने को मिला है। यहाँ  ज्योतिषी की सलाह पर एक ड्राइवर ने बस केवल इसलिए एक घंटे की देरी से चलाई, क्योंकि उसे ऐसा करने के लिए कहा गया था। ड्राइवर ने सवा घंटे तक बस को डिपो में ही खड़ा रखा और फिर समय होने पर यात्रियों को लेकर रवाना हुआ। बस के लेट होने पर यात्रियों ने अधिकारियों से शिकायत की, जिसके बाद ड्राइवर से इसे लेकर स्पष्टीकरण मांगा गया। ड्राइवर ने जवाब में कहा कि ज्योतिषी ने उससे कहा था कि अगर वो उस समय बस लेकर निकलेगा तो यात्रियों की मौत हो जाएगी।

सवा घंटे तक डिपो में खड़ी रखी बस

बेंगलुरू में मंगलवार को एक बस ड्राइवर चर्चा का विषय बन गया। बेंगलुरू महानगरप परिवहन निगम के ड्राइवर योगेश गौड़ा की ड्यूटी शहर के रूट नंबर 45जे पर लगी थी। मंगलवार सुबह 6:15 बजे योगेश को मैजिस्टिक बस स्टेशन के लिए बस लेकर निकलना था, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। योगेश बस स्टेशन तो पहुंच गया, लेकिन बस को उसने डिपो में ही सवा घंटे तक खड़ा रखा। ड्राइवर की ये हरकत देख कई यात्रियों ने उसकी शिकायत आला अधिकारियों से की।

ज्योतिषी ने कहा था- 15 लोगों की मौत हो जाएगी’

बस ड्राइवर 6:15 बजे की बस सवा घंटे बाद 7:25 पर लेकर निकला। योगेश ने वरिष्ठ अधिकारियों को बताया कि उसने एक ज्योतिषी के कहने पर ऐसा किया। योगेश ने बताया कि एक ज्योतिषी ने उससे 31 अगस्त को कहा था कि वो डिपो से तय समय पर बस लेकर निकला तो राहू-काल के कारण 15 यात्रियों की मौत हो जाएगी। ज्योतिषी ने योगेश से कहा था कि अगर वो उस समय बस लेकर निकला तो बस में सवार 15 यात्रियों की मौत हो जाएगी।

अपने बचाव में ड्राइवर ने कहा ये

इसलिए योगेश ने बीएटीसी की बजाय यात्रियों की जान सुरक्षित करने का फैसला लिया। योगेश के खिलाफ जांच की जा रही है। योगेश के देरी से बस चलाने पर गाड़ी के कम फेरे लगे और इससे बीएमटीसी को नुकसान हुआ। वहीं अपने बचाव में योगेश ने कहा कि नगर निगम भी बस और यात्रियों की सुरक्षा के लिए पूजा-पाठ कराता है। इसी तरह उसने अपनी आस्था को मानते हुए ज्योतिषी की बात पर यकीन किया।

 

Back to top button
E-Paper