डॉ. हाथी की याद में टीम ने किया VIDEO शेयर,  ‘तारक मेहता’ शो के प्रोड्यूसर ने इस तरह दी श्रद्धांजलि

9 जुलाई को ”तारक मेहता का उल्टा चश्मा” फेम कवि कुमार आजाद (डॉक्टर हाथी) ने अंतिम सांस ली. उनके अचानक अलविदा कह जाने से पूरी टीवी इंडस्ट्री सदमे में है. तारक मेहता की टीम ने अपने सबसे चहेते किरदार को खो गया है. शो के प्रोड्यूसर असित कुमार मोदी ने पूरी टीम की तरफ से डॉक्टर हंसराज हाथी को भावुक श्रद्धांजलि दी है. उन्होंने एक वीडियो शेयर कर डॉ. हाथी को याद किया है.

Related image

वीडियो में प्रोड्यूसर एक्टर की जिंदादिली और खुशमिजाज व्यक्तित्व की तारीफ कर रहे हैं. असित मोदी कह रहे हैं, ”फूल मुरझा जाते हैं लेकिन उनकी खुशबू हमेशा रहती है, कवि कुमार हमारे दिल में हमेशा रहेंगे. वे एक शानदार कलाकार थे. बहुत पॉजिटिव थे और हमेशा सबको हंसाते रहते थे. उनके जाने से अगर हम उदास रहेंगे तो उन्हें दुख पहुंचेगा. हम उन्हें श्रद्धांजलि नहीं हास्यांजलि अर्पित करते हैं.”

https://instagram.com/p/BlFTDCEHJPy/?utm_source=ig_embed

एक इंटरव्यू में हुआ खुलासा

डॉ. हंसराज हाथी की 8 साल पहले बैरिएट्रिक सर्जरी करने वाले डॉ. मुफी लाकडवाला ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया है कि वे इसलिए अपना वजन नहीं घटाना चाहते थे, क्योंकि उन्हें लगता था कि फिर काम नहीं मिलेगा. उन्होंने बताया कि 8 साल पहले कवि कुमार उनके पास बिल्कुल मृत हालत में आए थे. इससे पहले उन्हें डॉ. मुफी ने कई बार बैरिएट्रिक सर्जरी की सलाह दी थी, लेकिन काम न मिलने के डर से वे ऐसा नहीं कराना चाहते थे.

डॉ. मुफी ने उन्हें पैडिंग का इस्तेमाल कर कैमरा फेस करने की सलाह दी, लेकिन वे इसके लिए राजी नहीं हुए. इसके बाद उनका वजन 20 किलो बढ़ गया. वे 160 किलो के हो गए थे. लेकिन वे अब भी बैरिएट्रिक सर्जरी नहीं कराना चाहते थे. यदि ये हो जाता तो आज डॉ. हाथी जिंदा होते.

Back to top button
E-Paper