भुमाफियाओं ने नहीं छोड़ी मरघट की और कब्रिस्तान की जमीन 

हेल्प एशियन संस्था ने जिला प्रशासन जमीन को कब्जा मुक्त करने की लगाई गुहार

भास्कर समाचार सेवा

गाजियाबाद। मसूरी थाना क्षेत्र के धूल घड़ी में स्थित मरघट और कब्रिस्तान की जमीन पर भूमाफिया द्वारा इंसानियत और मानवता को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। एक एनजीओ के द्वारा इस मामले की शिकायत जिला प्रशासन से लेकर मुख्यमंत्री से भी की है। और सरकारी जमीन को कब्जा मुक्त करने की गुहार भी लगा डाली। हेल्प एशियन संस्था के सदस्य प्रदीप शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि भुड़ गढ़ी में किसी बीमारी या विपत्तियों के चलते हिंदू समाज के छोटे बच्चों की मृत्यु हो जाने के बाद उन्हें दाह संस्कार ना करके उन्हें दफनाने का कार्य किया जाता है। मगर कुछ भूमाफिया किस्म के लोगों द्वारा दबंगता के बल पर सरकारी जमीन यानी मरघट एवं कब्रिस्तान की संपत्ति को कब्जा करने का कार्य किया और उस पर कब्जा करके अवैध कार्य करना शुरू कर दिया। जब इस मामले में स्थानीय लोगों द्वारा शिकायत की जाती है तो उनके साथ बदतमीजी भी की जाती है। इस लिहाज से सरकारी संपत्ति को खाली कराने के लिए मुख्यमंत्री से लेकर जिला प्रशासन तक शिकायत कर जमीन को खाली कराने की गुहार लगाई है । हालांकि यह इंसानियत और मानवता को शर्मसार करने का मामला है। क्योंकि जिस तरह हर समाज के लोग कब्रिस्तान और मरघट जैसी जमीन पर कब्जा नहीं करते वही कुछ भूमाफिया किस्म के लोगों द्वारा जमीन पर कब्जा कर अपने पास में और जमीन को कब जाने का प्रयास किया गया है आए दिन इस तरह की मामले सामने आने से क्षेत्र के लोग भी भयभीत हैं और आकर उन्होंने भी जिला प्रशासन से सवाल उठाया है कि किसी के भी बच्चे की आकस्मिक मृत्यु पर उसे दफनाया या दाह संस्कार कहां किया जाए। इसको लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं । एसडीम सदर विजय सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि इस तरह का मामला मेरे संज्ञान में अभी आया है। लिहाजा शिकायती पत्र प्राप्त हो गया है। शिकायतकर्ता के द्वारा शिकायत दी गई है। इस मामले की निष्पक्ष जांच कराकर तहसील की टीम को भेजकर सरकारी संपत्ति को खाली कराने का प्रयास कराया जाएगा और ऐसे लोगों पर जो इंसानियत और मानवता को शर्मसार कर रहे हैं। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।

Back to top button