“टूर आफ ड्यूटी” योजना से खुलेगा युवाओं की नौकरी का रास्ता, PM मोदी करेंगे ऐलान

भारत सरकार अब सेनाओं में भर्ती के लिए नई प्रक्रिया ला रही है। इस दिशा में टूर आफ ड्यूटी योजना के तहत युवाओं को सेना से जोड़ने का बड़ा ऐलान किए जाने का संकेत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज इसका ऐलान करेंगे। इस प्रक्रिया के तहत युवाओं को चार साल के लिए सेना में भर्ती किया जाएगा। इस संबंध में तीनों सेनाओं के प्रमुख आज संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। माना जा रहा है कि इसके तहत सेना में 40-50 हज़ार तक जवानों की भर्ती होगी जिनकी नौकरी करीब 3-4 सालों के लिए ही होगी। केंद्रीय कैबिनेट बुधवार को इस योजना को मंजूरी मिलने की उम्मीद है। इसके मद्देनजर ही तीनों सेनाओं के प्रमुखों की प्रेस कांफ्रेंस प्रस्तावित है।

टूर आफ डयूटी योजना

टूर आफ डयूटी योजना के तहत युवाओं को सिर्फ 4 साल के छोटे कार्यकाल के लिए सेना में शामिल किया जाएगा। माना जा रहा है कि सैन्य बलों में सुधार के साथ उनके खर्च कम करने के लिए यह योजना कारगर साबित हो सकती है। इसके तहत करीब 50 हजार जवानों की भर्ती किया जाएगा। चार साल की नौकरी करने के बाद इनमें से 75 प्रतिशत लोगों को रिटायर किया जाएगा। 25 प्रतिशत अधिक सक्षम लोग सेना नौकरी करते रहेंगे। यानी इस योजना से 3 से 4 सालों के लिए भारतीय सेना, नेवी और एयरफोर्स में जवानों की भर्ती की जाएगी।

अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई

इसके बारे में अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। बताया जा रहा है कि इसके तहत अब 4 साल के लिए युवाओं को सेना, नेवी और एयरफोर्स में भर्ती किया जाएगा। टूर ऑफ ड्यूटी की शुरुआत आर्मी से की जाएगी। इसके बाद नौसेना और वायुसेना में लागू किया जाएगा।

जानिए किस पोस्ट के लिए होगी भर्ती

इस योजना के दौरान युवाओं को सेना के जवानों की तरह पूरी ट्रेनिंग मिलेगी और उन्हें तैनात भी किया जाएगा। टूर ऑफ ड्यूटी के तहत अफसरों और सैनिकों दोनों की भर्ती होगी। अफसरों के लिए उन्हें भर्ती किया जाएगा, जो रिटायर हो चुके होंगे। वहीं, सैनिकों में युवाओं को भर्ती किया जाएगा। ड्यूटी पूरी होने के बाद युवा दूसरी जगह नौकरी कर सकते हैं

Back to top button