बाराबंकी में दर्दनाक हादसा : तीन मंजिला इमारत गिरने से 3 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

बाराबंकी । बाराबंकी में तीन मंजिला घर गिरने के आठ घंटे बीतने के बाद भी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। मलबे के नीचे फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ टीम के सदस्य मशक्कत कर रहे हैं। अब तक मलबे में फंसे 15 लोगों को बाहर निकाला गया है, जिनमें तीन की मौत हुई है। तीसरा शव दोपहर करीब एक 2 बजे मलबे से निकाला गया। बताया जा रहा है कि जो घर गिरा है। वह 20 साल पुराना था। बाद में कमजोर नींव पर ही तीन मंजिला बिल्डिंग बनवा ली। घटना फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र की है।

एसपी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि हाशिम नाम के व्यक्ति का 3 मंजिला गिर गया है। हादसे के वक्त घर में 16 लोग थे। सभी सो रहे थे। हादसे में अब तक 15 का रेस्क्यू किया गया है। इसमें 3 की मौत हो गई। एक अभी भी मलबा में दबा हैं। एनडीआरएफ की टीम निकालने की कोशिश कर रही है।

आसपास के लोगों ने बताया कि धमाके जैसी तेज आवाज से उनकी नींद खुली। बाहर निकलकर देखा तो हाशिम का पूरा मकान गिर चुका था। घटना से आसपास के लोगों में हड़कंप मच गया। डॉयल-112 को सूचना दी। थोड़ी ही देर में पुलिस, फायर ब्रिगेड और प्रशासन के अफसर मौके पर पहुंच गए। हादसे की भयावहता को देखते हुए एसडीआरएफ को बुलाया गया। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाल कर जिला अस्पताल भेजा गया।

हादसे में हाशिम की बेटी रोशनी (22) और इस्लामुद्दीन के बेटे हकीमुद्दीन (25), दानिश पुत्र हाशिम की मौत हो गई। जबकि हाशिम की पत्नी शकीला (55), पुत्री जैनब (10), महक (12), बेटा समीर (18), सलमान (25), सुल्तान (28) घायल है। इसके अलावा, जफरुल हसन (35) पुत्र इस्लामुद्दीन और उसकी मां उम्मे कुलसुम (60) को गंभीर चोटें आई। वहीं मो. आजम (18) पुत्र मो. हाशिम और अलतमस (11) पुत्र इस्लामुद्दीन को डिस्चार्ज कर दिया है।

हाशिम के परिवार में 20 लोग थे। हाशिम लखनऊ में एडमिट है। उनके बीमार होने पर परिवार के 4 लोग लखनऊ चले गए थे। हाशिम कारोबारी हैं। उनकी घर के नीचे वाली फ्लोर पर इलेक्ट्रानिक की दुकान है। इसी घर में उनके दो भाईयों का परिवार भी रहता था। हाशिम का मकान संकरे इलाके में बना था। मौके पर 250 लोगों की एसडीएआरएफ की टीम राहत बचाव कार्य में जुटी है। डॉग स्क्वायड को भी बुलाया गया है।

रिश्तेदार राबिया ने बताया- शायद सिलेंडर फटने की हुई घटना

हाशिम की रिश्तेदार राबिया सिद्दकी पड़ोस में रहती हैं। उन्होंने बताया, “घर गिरने की सूचना पर हम लोग वहां पहुंचे। मलबे से लोगों को निकालकर अस्पताल लेकर आए। घर तीन मंजिल था। किराएदार कोई नहीं रहता था। सब फैमिली के लोग रहते थे। घर में इलेक्ट्रानिक की दुकान थी। उसी का काम होता था। बैट्री का काम नहीं होता था। घर में दो सिलेंडर थे। बहू ऊपर खाना बनाती थी। मेरी ननद नीचे खाना बनाती थी। इस कारण लगता है कि सिलेंडर फटने की वजह से घटना हुई हो।”

आसपास के लोगों ने बताया कि हाशिम का घर 20 साल पुराना था। बाद में उसी पुराने मकान पर ही तीन मंजिला बिल्डिंग बनवा ली। ऐसे में माना जा रहा है कि नींव कमजोर होने के कारण पूरा मकान गिर गया। बड़ा सवाल यह भी है कि आखिर प्रशासन ने बिना अनुमति के बिल्डिंग क्यों बनने दी।

घायलों को लखनऊ ट्रामा सेंटर किया गया रेफर

एसपी बाराबंकी दिनेश सिंह ने बताया, ”लखनऊ से एसडीआरएफ की टीम पहुंच गई है। 12 लोगों को जिला अस्पताल भेजा गया था। इनमें से दो की मौत हो गई। अन्य गंभीर को लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया है। अभी 1 लोगों के फंसे होने की जानकारी मिल रही है, बचाव अभियान जारी है। 8 घंटे बाद रेस्क्यू कर दानिश नाम के शख्स को निकाला गया है। जिसको डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया है।”

रेफर घायलों के नाम

जैनब फातिमा पुत्री इस्लामुद्दीन, उम्र 8 वर्ष
कुलसुम पत्नी इस्लामुद्दीन, उम्र 47 वर्ष
जफरूल हसन पुत्र इस्लामुद्दीन, उम्र 20 वर्ष
महक पुत्री मोहम्मद हाशिम, उम्र 12 वर्ष
शकीला पत्नी मोहम्मद हाशिम, उम्र 50 वर्ष
सलमान पुत्र मोहम्मद हाशिम, उम्र 26 वर्ष
सुलतान पुत्र मोहम्मद हाशिम, उम्र 24 वर्ष
समीर पुत्र मोहम्मद हाशिम, उम्र 16 वर्ष
मृतकों के नाम

हकीमुद्दीन पुत्र इस्लामुद्दीन, उम्र 28 वर्ष
रोशनी बानो पुत्री मोहम्मद हाशिम, उम्र 22 वर्ष
दानिश पुत्र मोहम्मद हाशिम, उम्र 15 वर्ष
घायलों के नाम

इमामुद्दीन पुत्र इस्मलामुद्दीन, उम्र 25 वर्ष
मोहम्मद आजम पुत्र मोहम्मद हाशिम, उम्र 21 वर्ष
सायना परवीन पत्नी आफताब आलम, उम्र 28 वर्ष
जैनब पुत्री आफताब आलम, उम्र 14 वर्ष
बिलाल पुत्र आफताब आलम, उम्र 9 वर्ष
मलबे में दबा

आफताब आलम उर्फ गुड्डू पुत्र मोहम्मद हाशिम, उम्र 32 वर्ष

वहीं सीएम योगी ने बाराबंकी में बिल्डिंग गिरने से हुए हादसे का संज्ञान लिया है। मुख्यमंत्री ने अफसरों को अस्पताल पहुंचकर मदद के निर्देश दिए हैं।

100 की स्पीड में 6 बार पलटी कार,1 की मौत…VIDEO:बर्थडे पार्टी कर गर्लफ्रेंड के साथ जा रहा था; लखनऊ के अंबेडकर पार्क चौराहे पर हुआ हादसा

लखनऊ में 100 की स्पीड में कार डिवाइडर से टकरा गई। मोड़ पर टक्कर लगते ही चिंगारी निकली और गाड़ी करीब 6 बार पलटी। हादसे के वक्त कार में एक युवक और युवती सवार थे। युवक की मौत हो गई। जबकि युवती घायल है। यह घटना गोमती नगर के अंबेडकर चौराहे का है। इसका सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है।

Back to top button