सिर्फ 2 दिन पिए ये चाय, ऐसे घटेगा आपका वजन

अगर आप वेट कम करने को लेकर स्ट्रगल कर रहे हैं तो आपके लिए टर्मरिक टी यानि हल्‍दी से बनी हुई चाय बेहतर साबित हो सकती है। टर्मरिक में एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक के साथ ही वोलेटाइल ऑयल,पोटेशियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड्स, लाइनोलेनिक एसिड, प्रोटीन्स, कार्बोहाइड्रेट के साथ फाइबर भी होता है।

एक मसाले के रूप में ही नहीं बल्कि हेल्थ के लिए भी टर्मरिक हमेशा से यूज होता रहा है लेकिन नई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि हल्दी बैली फैट को भी कम करता है। अगर आप रोजाना दो कप टर्मरिक टी अपने रूटीन में शामिल करें तो ये संभाव है। आइए बताते हैं कैसे?

ऐसे काम करती है हल्‍दी वाली चाय 
ब्लड शुगर को रेग्युलेट करने के साथ ही टर्मरिक टी डाइजेशन के लिए भी बेहतर है और जब डाइजेशन बेहतर होता है तो वेट लॉस प्रक्रिया तेजी से काम करने लगती है। दरअसल टर्मरिक एंटी इनफ्लेमेटरी से भरा होता है और ये फैट सेल को बढ़ने नहीं देता। एक्सरसाइज के साथ टर्मरिक में पाया जाने वाला कंपाउंड वेट लॉस को और तेज कर देता है।

ऐसे बनाएं टर्मरिक टी

टर्मरिक टी और अदरक : एक सॉसपैन में पानी लें और चुटकी भर हल्दी और अदरक डाल कर उबालें। जब ये उबल जाए तो इसे आंच से उतार कर ठंडा करे और रूम टेंमरेचर पर आने पर इसे पीएं। अदरक भूख को कम करेगा और हल्दी मेटाबॉलिक रेट को बढ़ाएगी।

हल्‍दी और मिंट: अगर आपको मिंट फ्लेवर पंसद है तो आप हल्दी टी को मिंट के साथ भी बना सकते हैं। मेंथॉल से फ्रेशनेस आएगी और ये डाइजेशन को सही करेगा और इससे फैट इंजाइम्स एनर्जी में बदल जाएंगे।

 

 

दालीचीन के साथ टर्मरिक टी : दालचीनी खुद में वेट लॉस के लिए महत्वपूर्ण होती है और जब ये टर्मरिक केसाथ मिल कर चाय के रूप में पी जाती हैं तो और इफेक्टिव हो जाती है। ये इंसुलीन सेंसिटिविटी को सुधारती है और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है।

हल्‍दी और शहद: टर्मरिक के साथ अगर आपको मिठास चाहिए तो हनी से बेहतर कुछ नहीं। वेट लॉस प्रो्ग्राम में हनी बहुत इंपोर्टेंट है। हनी भूख कम करने के साथ वेट लॉस के लिए भी काम आता है और जब ये टर्मरिक के साथ मिलता है तो असर दोगुना हो जाता है।

Back to top button
E-Paper