टीवी एक्ट्रेस ने घर में लगाई फांसी, आखिरी व्हाट्सएप स्टेटस- “सबसे बुरा होता है सपनों का मर जाना”

इंदौर। टीवी सीरियल क्राइम पेट्रोल और ट्यूब के वीडियो से सुर्खियों में आने वाली एक्ट्रेस प्रेक्षा मेहता ने इंदौर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। लॉकडाउन के बाद से प्रेक्षा अपने घर इंदौर में रह रही थी। 25 वर्षीय प्रेक्षा बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार की पैडमेन समेत कई टीवी सीरियल से पहचान बना चुकी थीं।

पुलिस के मुताबिक प्रेक्षा ने लॉकडाउन के दौरान मुंबई में फैले कोरोना को लेकर वो परेशान रह रही थी और डिप्रेशन में पहुंच गई थी। इंदौर के बजरंग नगर में रह रही थी, उसके पिता रवींद्र मेहता का जनरल स्टोर है। उसके पिता के मुताबिक प्रेक्षा काफी समय से परेशान थी। उसे लगने लगा था कि अब मुंबई की चकाचौंध भरी जिंदगी में लंबे समय तक काम मिलना मुश्किल हो जाएगा। इससे भयभीत होकर उसने सुसाइड करने का मन बना लिया। प्रेक्षा के परिजनों के अनुसार मंगलवार सुबह जब प्रेक्षा ने कमरे का दरवाजा नहीं खोला तो झांककर देखा, तो वो फांसी के फंदे पर झूलती हुए नजर आई। हीरा नगर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

यह लिखी अंतिम बात
प्रेक्षा ने फेसबुक पेज पर एक अंतिम पोस्ट लिखी है। उसमें लिखा है कि सबसे बुरा होता है सपनों का मर जाना और ब्लैक बैक ग्राउंड की ये पोस्ट ने स्पष्ट कर दिया था कि प्रेक्षा अपने काम और सपनों को लेकर कितनी समर्पित थी और वो भीतर ही भीतर टूट चुकी थी। इसके बाद उसने आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया। हालांकि प्रेक्षा की पोस्ट पर कमेंट और लाइक न के बराबर थे, लेकिन जिसने भी सुना वो हैरान रह गया कि अब प्रेक्षा इस दुनिया में नहीं रही। लोग कहते हैं कि जो कभी टीवी सीरियल की जान हुआ करती थी औ थियेटर में माइम विधा से लेकर वन एक्ट प्ले विधा में भी माहिर थी। इतना ही नहीं उसने यूट्यूब पर हजारों फालोअर्स बनाए थे, उसके वीडियो काफी देखे जाते थे।

Back to top button
E-Paper