उन्नाव : प्रसपा ने सरकार की विफलताओं को लेकर किया प्रदर्शन

अमित शुक्ला 

उन्नाव। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया ने प्रदर्शन के माध्यम से सरकार को जगाने का काम कई सैकड़ा कार्यकर्ताओं के साथ जीआईसी मैदान में एकत्रित होकर किया और एक विशाल जूलूस के साथ सरकार विरोधी नारे लगाते हुये महामहिम राज्य पाल को सम्बोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट महोदय को सौंपा। आन्दोलन का नेतृत्व कर रहे पार्टी के राष्ट्रीय महा सचिव एवं प्रवक्ता शारदा प्रताप शुक्ला व जिलाध्यक्ष सतीश शुक्ला ने किया। कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुये शारदा प्रताप शुक्ला ने कहा कि वर्तमान सरकार से किसान, नौजवान, व्यापारी, दीहाड़ी मजदूर, अल्प संख्यक एवं महिलायें आदि सभी परेशान है।

महिलाओं पर अत्याचार बढ़ता जा रहा है, विकास कार्य ठप है, भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है, छोटे उद्योग धन्धे बन्द हो रहे है, लूट हत्या बलात्कार जैसी घटनाये आम हो गयी है। पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों से जनता परेशान है मगर मौजूदा सरकार इन सभी बातों की अनदेखी कर नये-नये जुमलों से जनता को भटकाने का काम कर रही है। वही जिलाध्यक्ष सतीश शुक्ला ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि ट्रान्स गंगा सिटी में किसानों के आन्दोलन की अनदेखी की बात उठायी। उन्होंने नेता जी सुभाष चन्द्र बोस, डा0 राम मनोहर लोहिया तथा चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिये जाने की मांग की और कहा कि किसान आयोग का गठन हो जिससे किसानों को अपनी फसल का खुद मूल्य तय करने का अधिकार मिले।

पिछडे की जाति आधारित जनगणना कराकर उनके हकों की लूट को रोका जा सके, बेरोजगारों को रोजगार दो या बेरोजगारी भत्ता दों, अल्पसंख्यकों के साथ हो रहे अत्याचार व पक्षपात तत्काल बन्द हो, शिक्षा मित्रों के लिये भारत सरकार कानून बनाकर उनका समायोजन करें। श्री शुक्ल ने कहा कि प्रसपा की प्रमुख मांग गरीबी हटाओं रोजगार दिलाओं, दवाई पढ़ाई मुफ्त करों है। प्रदर्शन में प्रमुख रूप से प्रदेश सचिव बालेन्द्र सिंह, युवजन सभा के प्रदेश सचिव आदित्य सिंह, योगेन्द्र यादव, बीतेन्द्र यादव, आलोक निगम, अलवी मिश्रा, लवकुश यादव, के के लोधी, पीयूष सिंह, अशोक यादव नन्हा महाराज, जियाउद्दीन, विमल शुक्ला, रवि कुमार, प्रमोद तिवारी, संगीता यादव, शैली द्विवेदी, हितेन्द्र निगम, अलवर भाई, आरिफ खान, मनोज कुमार, अनवार अली आदि तमाम कार्यकर्तागण मौजूद रहे।

Back to top button
E-Paper