लखनऊ में गरीबों पर पुलिस का आतंक, ‘थर्ड डिग्री’ टॉर्चर का वीडियो हुआ वायरल

लखनऊ: उत्तर प्रदेश पुलिस का एक ऐसा खौफनाक चेहरा सामने आया है जिससे पूरा महकमा शर्मसार है। सोशल मीडिया में राजधानी लखनऊ का एक वीडियो तेजी से वायरल रहा है।  इस वीडियो में एक पुलिस सिपाही बीच सड़क पर रिक्शा चालक की पिटाई करते हुए नजर आ रहा है। थर्ड डिग्री के इस टॉर्चर में पुलिस कर्मी रिक्शा चालक पर लात-घूसे बरसा रहा है और गालियां दे रहा है।

https://youtu.be/iaBU634L3EU

वीडियो के वायरल होते ही पुलिस महकमें में हडकंप मच गया

आनन-फानन में एसएसपी ने घटना की जांच अलीगंज के सीओ को सौंपते हुए तत्काल रिपोर्ट देने को कहा। इसके बाद आरोपी सिपाही की पहचान आनंद प्रताप सिंह के रूप में हुई और उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया।

आरोपी सिपाही मंडियाव थाने की पीआरवी नंबर 495 में तैनात था। पुलिस विभाग के मुताबिक, ‘आरोपी सिपाही का रिक्शा चालक को मारने-पीटने संबंधी वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित होने से पुलिस विभाग की छवि धूमिल हुई है। इसलिए आरोपी आरक्षी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।’

ये वीडियो 22 की रात जानकीपुरम इलाके के इंजीनियरिंग कॉलेज चौराहे का है

ये वीडियो 22 की रात जानकीपुरम इलाके के इंजीनियरिंग कॉलेज चौराहे का है, जहां ऑटो की टक्कर से किसी को चोट लग गई थी। इसकी सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे पीआरवी में तैनात पुलिस कर्मियों ने ऑटो चालक की पहले जमकर पिटाई करते हुए सीने पर पैर तक रख दिया।

इस दौरान ऑटो चालक पुलिसकर्मियों के आगे गिड़गिड़ाता रहा, लेकिन पुलिसकर्मी उसकी बीच सड़क पर लात-घूंसे से पिटाई करते रहे। फिलहाल वीडियो वायरल होने के बाद पीआरवी में तैनात पुलिस कर्मियों की पहचान हो गई है.। पुलिस के अधिकारी पूछताछ में जुटे है। सीओ अलीगंज की जांच रिपोर्ट के बाद इन पुलिस कर्मियों पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है।

Back to top button
E-Paper