कंगाली के कगार पर पाकिस्तान, इमरान खान ने दिया बड़ा बयान, कहा….

हमें अपने आपको और मुल्क को बदलने की जरुरत

इस्लामाबाद। प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि देश को चलाने के लिए पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के पास पैसा नहीं है। इस्लामाबाद में एक इवेंट में नौकरशाहों को संबोधित करते हुए इमरान खान ने पिछली सरकार पर जमकर हमला बोला।

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने अपने दौर में नुकसान होने वाले प्रोजेक्ट को अपने हाथ में लेकर देश के साथ घाटे का सौदा किया। इमरान खान शुरू से ही देश के आर्थिक घाटे को लेकर पिछली सरकारों पर हमला बोल चुके हैं और इसी वजह से उन्होंने आते ही फिजूलखर्जी पर रोक लगाने की बात कही है।

हमें अपने आपको और मुल्क को बदलने की जरुरत

पाकिस्तान में ‘द डान’ न्यूज के मुताबिक, इमरान खान ने कहा है कि देश की बहुसंख्यक आबादी युवा है और नौकरियां ढूंढ रही है। उन्होंने कहा कि हमें देश को कर्ज से बाहर निकालने की जरुरत है। रिपोर्ट के अनुसार, पीटीआई चीफ ने कहा है कि हमें अपने आपको और मुल्क को बदलने की जरुरत है। खान ने आगे कहा कि जब सरकारों को लोगों की जिम्मेदारी लेनी चाहिए, तो लोगों को भी सरकार का स्वागत करना चाहिए।

खुदा ने यह संकट पैदा किया होगा...

खुदा ने यह संकट पैदा किया होगा…

इमरान खान ने नौकरशाहों को संबोधित करते हुए कहा, ‘हो सकता है खुदा ने यह संकट पैदा किया होगा, क्योंकि वह हमें बदलना चाहते हैं।’ इमरान ने नौकरशाहों को आश्वासन दिया कि वह उन्हें किसी भी अनुचित राजनीतिक दबाव से बचाएंगे। खान ने आगे कहा कि यदि देश और सरकार एक साथ हैं तो ऐसी कोई चुनौतियां नहीं हैं, जिनका हम सामना नहीं कर सकते हैं।

नौकरशाहों की सैलरी को लेकर चिंता...

नौकरशाहों की सैलरी को लेकर चिंता…

इमरान खान ने अपने देश के नौकरशाहों की सैलरी को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि पहले भ्रष्टाचार कम था, इसलिए उन्हें अच्छा वेतन भी मिलता था। पीटीआई प्रमुख ने कहा, ‘नौकरशाही ने सबसे अच्छी प्रतिभा को आकर्षित किया है और चोरी करने और भ्रष्ट होने का कोई प्रलोभन नहीं था, क्योंकि उन्हें अच्छी तरह से मुआवजा दिया जाता था।’ इमरान खान ने आगे कहा कि भले ही कोई नौकरशाह मुझे या मेरी पार्टी पीटीआई को पसंद नही करता है, लेकिन वह देश के लिए काम कर रहा है तो वह हमेशा उनके साथ खड़ा रहेंगे।

Back to top button
E-Paper