नए प्यार के लिए पुराने प्यार को उतारा मौत के घाट, पढ़े लव, धोखा और बदले की कहानी

नोएडा : दिल्ली के द्वारका इलाके की महिला ने बिहार के अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पूर्व प्रेमी की बर्बर तरीके से हत्या कर दी। मामला त्रिकोणीय प्रेम कहानी का है। पुलिस के द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक लड़की सायरा, रहीम और इसराफिल तीनों चार साल पहले एक ट्रेन यात्रा में मिले थे। उसी दौरान दोनों लड़कों को उस लड़की से प्रेम हो गया। उस घटना के बाद बिहार के कटिहार का रहने वाला रहीम अक्सर दिल्ली आकर सायरा से मिलने लगा। इधर इसराफिल भी सायरा से मिलने लगा था।

लव, सेक्स, धोखा और बदले के इस त्रिकोणीय प्रेम कहानी में 22 वर्षीय सायरा नामक लड़की दो 20 वर्षीय लड़कों के प्यार के चंगुल में फंस गई। सायरा नोएडा के इसराफिल की तरफ झुकने लगी। इसी बीच दो साल पहले इसराफिल को किसी और लड़की से भी अफेयर हो गया। इसी दौरान रहीम सायरा की लाइफ में वापस लौट आया और उन दोनों के बीच का प्यार परवान चढ़ने लगा। लेकिन इसके बाद फिर भी सायरा और इसराफिल छुप-छुप कर मिलते थे।

बाद में रहीम के कहने पर सायरा ने इसराफिल से मिलना-जुलना कम कर दिया। सायरा ने पुलिस को बताया कि इसराफिल ने उसे अपने साथ सेक्स संबंध बनाए रखने के लिए ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। उसने रहीम के साथ उसके अफेयर को लेकर धमकी भी दी। इसके बाद ही 31 अगस्त को सायरा ने रहीम के साथ मिलकर इसराफिल की हत्या करने का ये खतरनाक प्लान बनाया।

रहीम के कहने पर सायरा एक तेज चाकू खरीदा और पेशे से ऑटो ड्राइवर इसराफिल को कॉल कर उसे नोएडा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन पर उसी रात मिलने को बुलाया। वे दोनों रात करीब 8 बजे मिले। मिलने के बाद दोनों एक ऑटो से नोएडा एक्सप्रेसवे की तरफ निकल गए। पीछे से ऑटो में रहीम उनका पीछा कर रहा था। इसराफिल ने एक जगह अंधेरे में सायरा के कहने पर ऑटो को रोक दिया। उसी दौरान सायरा ने अपने दुपट्टे में छुपा कर रखे चाकू को निकाला और उसका गला काट दिया।

रहीम ने भी वहां पहुंचकर इसराफिल पर कई वार किए और उसके चेहरे को ईंट से वार कर उसे कुचल दिया। सायरा वापस द्वारका लौट गई जबकि रहीम वापस प्लेन से पटना आ गया। अगले दिन पुलिस को इसराफिल की लाश मिली, जांच के दौरान पता चला कि मामला लड़की से जुड़ा हुआ है। घटनास्थल से इसराफिल का पर्स और हत्या में इस्तेमाल हुआ चाकू भी पाया गया। मौके पर मिले इसराफिल के मोबाइल से पूरे मामले का भंडाफोड़ हुआ।

जांच के बाद पुलिस ने रहीम का पता लगाया। नोएडा पुलिस टीम ने 6 सितंबर को कटिहार पहुंचकर रहीम को गिरफ्तार कर ट्रेन से शनिवार को नोएडा ले आई। अन्य पुलिस टीम ने द्वारका पहुंचकर सायरा को भी गिरफ्तार कर लिया। वह वहां लोगों के घरों में काम करती थी। नोएडा एसएसपी अजय पाल शर्मा ने कहा कि 3 सितंबर को इसराफिल की पत्नी के द्वारा एक शिकायत दर्ज कराई गई थी। उसी ने संदिग्ध के तौर पर सायरा का नाम लिया था।

Back to top button
E-Paper