पहले बच्चे के दौरान महिलाओं को सताती है ये चिंता, सोचती हैं ये बातें

गर्भावस्था का समय हर महिला के लिए बहुत अनोखा होता है। यह एहसास तब ज्यादा अनोखा होता है जब वह पहली बार मां बनती है। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के मन में तरह-तरह के ख्याल आते रहते हैं और वह न जाने क्या-क्या बातें सोचती रहती हैं। पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को प्रेग्नेंसी के पूरे 9 महीने कई तरह के ख्याल आते हैं।

9 महीने के लंबे इंतजार के बाद जब महिला की गोद में नन्हा शिशु आता है तो उसे बेहद आनंद का एहसास होता है। ऐसे में आप भी जानें कि महिलाएं गर्भावस्था के दौरान क्या-क्या बातें सोचती रहती हैं।

गर्भावस्था में ये बातें सोचती हैं महिलाएं

  • पहली बार मां बनने वाली महिलाएं होने वाले दर्द के बारे में सोचती हैं।
  • वह भले ही दर्द के बारे में ज्यादा सोचती हों लेकिन डिलीवरी के समय वह इसे सह लेती हैं।
  • मां का बच्चे से अलग ही कनेक्शन होता है। वह गर्भ से ही बच्चे की सेहत की चिंता करने लगती है।
  • वह हर समय सोचती है कि बच्चा ठीक है कि नहीं, सब कुछ ठीक-ठाक हो जाए।
  • महिलाओं के मन में यह बात भी आती है कि उनके पति को किसी चीज की परवाह नहीं है।
  • गर्भावस्था के दौरान भी मेरे पति इतने बेफिक्र क्यों रहते हैं।
  • जैसे-जैसे डिलीवरी की डेट पास आती जाती है महिलाओं का डर भी बढ़ता जाता है।
  • इस स्थिति में वह अपनी मां को याद करती हैं कि उनकी मां उनके पास आ जाए।

 

Back to top button
E-Paper