ऑनलाइन क्लास में पाक का ‘गुणगान, शिक्षिका की सफाई- गूगल से कॉपी-पेस्ट से हुई गलती

गोरखपुर
ऑनलाइन शिक्षा में कॉपी-पेस्ट के फेर में शहर के प्रतिष्ठित जीएन नैशनल पब्लिक स्कूल की एक शिक्षिका को लेकर बवाल खड़ा हो गया है। बच्चों को ऑनलाइन पढ़ा रहीं शिक्षिका ने पाकिस्तान को अपनी प्यारी मातृभूमि और पाकिस्तान की सेना में भर्ती होने जैसी ख्वााहिश को उदाहरण के तौर पर दिखाकर बखेड़ा खड़ा कर दिया है।


दरअसल बच्चों को संज्ञा (नाऊन) समझाने में उदाहरण पेश करते-करते वह भूल गईं कि उनके उदाहरणों में पाकिस्तान का गुणगान हो रहा है। कई बार पाकिस्तान का महिमामंडन होते देख अभिभावकों की त्योरी चढ़ीं और फिर शिकायत के बाद स्कूल प्रबंधन हरकत में आया। प्रबंधन ने शिक्षिका को न सिर्फ सस्पेंड किया बल्कि पूरे मामले की जांच के लिए कमिटी भी गठित कर दी। हालांकि शिक्षिका का कहना है कि यह मात्र एक गलती है और इसे लेकर उनकी देशभक्ति पर सवाल नहीं उठाना चाहिए।

वॉट्सऐप ग्रुप पर बच्चों के सामने पाक का ‘गुणगान’
लॉकडाउन में ऑनलाइन शिक्षा की व्यवस्था की गई है। जीएन नैशनल पब्लिक स्कूल ने भी वॉट्सऐप के जरिए पढ़ाई शुरू कराई है। कक्षा 4 के बच्चों के अभिभावकों के नंबर भी जोड़े गए हैं। स्कूल में 2009 से पढ़ा रहीं अंग्रेजी की शिक्षिका शादाब खानम ने नाऊन पढ़ाना शुरू किया। उसके लिए उन्होंने उदाहरण दिया- ‘पाकिस्तान इज अवर डियर होमलैंड’ यानि पाकिस्तान हमारी प्यारी मातृभूमि है। ‘आई विल जॉइन पाकिस्तान आर्मी’ यानि मैं पाकिस्तान आर्मी में भर्ती होऊंगी और ‘राशिद मिन्हास वॉज ए ब्रेव सोल्जर’ यानि राशिद मिन्हाज एक बहादुर फौजी थे। इन उदाहरणों को देखकर अभिभावकों ने ऐतराज जताया तो स्कूल प्रबंधन के भी कान खड़े हुए।

पहले नोटिस फिर सस्पेंड
स्कूल प्रबंधन ने पहले शिक्षिका को कारण बताओ नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण देने को कहा मगर सोशल मीडिया पर थू-थू होते देखकर प्रबंधक गोरख सिंह को शिक्षिका को सस्पेंड करना पड़ा। उधर, शिक्षिका को अभी निलम्बन की कोई जानकारी नहीं मिली है। उन्हें एक नोटिस मिला है जिसमें एक हफ्ते में जवाब मांगा गया है।

शिक्षिका की सफाई- गूगल से कॉपी-पेस्ट से गलती
मामले के तूल पकड़ने पर शिक्षिका भी बैकफुट पर आ गई हैं। उन्होंने सफाई दी है कि गूगल से वह कुछ उदाहरण देख रहीं थीं। नाउन की छोटी परिभाषा तलाश रही थीं जिससे बच्चों को आसानी से समझ में आ जाए। उसी में यह इमेज आ गई। उन्होंने ध्यान नहीं दिया और कट-पेस्ट में गलती हो गई। वह पाकिस्तान से प्रेम के आरोपों को खारिज कर रही हैं। उनके परिवार का कहना है कि वे सच्चे देश प्रेमी हैं। परिवार इसे मानवीय भूल मान रहा है।

तूल पकड़ने पर शिक्षिका अवसाद में
मामले के तूल पकड़ने के बाद शिक्षिका शादाब खानम बीमार हो गई हैं। वह अवसाद में चल रही हैं और किसी से बात करने से परहेज कर रही हैं। वह यही सफाई दे रही हैं कि उनसे चूक हुई है। देश के खिलाफ जाने का सवाल नहीं उठता है। वहीं दूसरी ओर सोशल मीडिया पर लगातार लोग शिक्षिका के खिलाफ लिख रहे हैं।

एनबीटी व्यू

निश्चित ही इस तरह की गलतियां अगर टीचर करेंगे तो बुरा मैसेज जाएगा। मामले में पुलिस और एजेंसियों को जांच करनी चाहिए लेकिन बेवजह बिना जांच के किसी को दुश्मन देश का प्रेमी करार देना ठीक नहीं है। एनबीटी ऑनलाइन ने ‘noun and its kinds with examples’ डालकर सर्च किया तो शुरुआती इमेज ही इसी स्लाइड-शो से जुड़ी हुई मिली, जिसके उदाहरण ऑनलाइन क्लास के दौरान दिए गए थे। इसलिए इस बात की संभावना को नकारा नहीं जा सकता है कि वह मात्र एक मानवीय गलती हो। हालांकि एक टीचर होने के नाते शिक्षिका शादाब खानम को सतर्क रहना चाहिए था, और इस तरह की गलती से बचना चाहिए था।

Back to top button
E-Paper