ग्राम टास्क फोर्स सरकार व जनता के बीच मजबूत कड़ी 

गोपाल त्रिपाठी 
– कौड़ीराम में ग्रामपंचायत टास्क फोर्स के दो दिवसीय प्रशिक्षण का समापन
– गरीबी दूर करने और विकास में सहभागिता सुनिश्चित कराने के दिये टिप्स
गोरखपुर । कौड़ीराम ब्लाक सभागार में आयोजित ग्राम पंचायत टास्क फोर्स का दो दिवसीय ग्राम प्रशिक्षण का समापन गुरुवार को हुआ। प्रशिक्षण में टास्क फोर्स के सदस्यों को उनके कार्य दायित्व और जिम्मेदारियों की जानकारी दी गई।
राज्य सरकार द्वारा नामित प्रशिक्षक ओम प्रकाश श्रीवास्तव (सेवानिवृत्त जिला पंचायत राज अधिकारी) ने कहा कि गरीबी दूर करने और गांव के विकास में टास्क फोर्स की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने प्रतिभागियों को ग्राम विकास की योजनाओं में ग्रामीणों की सहभागिता सुनिश्चित कराने, केंद्रीय वित्त आयोग द्वारा ग्राम पंचायतों में प्राप्त धनराशि के उपयोग के तौर तरीकों,  गांवों के समग्र विकास, गरीबी दूर करने में सरकारी योजनाओ की उपयोगिता आदि विषयों पर विस्तार से जानकारी दी।
बीडीओ राजकुमार ने सभी प्रशिक्षणार्थियों से गांव में अपने कार्य व दायित्वों के समुचित निर्वहन की अपील की। एडीओ पंचायत संजय कुमार पाण्डेय ने कहा कि जानकारी को गांव में उतारना ही प्रशिक्षण की सार्थकता है। प्रतिभागियों के लिए नाश्ता भोजन एवं दैनिक प्रशिक्षण भत्ता का व्यवस्था भी किया गया। प्रशिक्षण में ग्राम विकास अधिकारी विनोद सिंह, अनुज राय, सुधीर श्रीवास्तव, जितेन्द्र कुमार, राम प्रकट पाण्डेय, बलजरे निषाद, राम सनेही, महेन्द्र पाण्डेय, अंकित, महेन्द्र, दीपचंद, रफीक, हरिकृष्ण त्रिपाठी, सोनमती, हरिओम, प्रेमनारायण, योगी, गुड्डी देवी समेत करीब 100 प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।
क्या है ग्राम पंचायत टास्क फोर्स
गांवो में सरकार और जनता के बीच समन्वय स्थापित करने और विकास को पारदर्शी बनाने के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक 5 सदस्यीय टास्क फोर्स का गठन किया गया है।  जो गांव के समग्र विकास, गरीबी उन्नमूलन, सरकारी धन के सदुपयोग, विकास योजना तैयार करने, मानव श्रम प्रबंधन आदि कार्यो की निगरानी करती है। इस समिति में निर्वाचित ग्रामपंचायत सदस्य, सामान्य नागरिक और गांव के श्रमजीवी मजदूर सदस्य होते है।
Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker