वाट्सएप वायरल वीडियो का खौफनाक सच : आखिर क्यों भीड़ ने की 27 हत्या ?

नई दिल्ली: एक वीडियो के चलते भारत में बीते दिनों भीड़ ने बच्चा चोरी के शक में 27 लोगों की हत्या कर दी। जिस वीडियो के कारण ये घटनाएं हो रही है, वह कराची आधारित एनजीओ रोशनी हेल्पलाइन के फेसबुक पेज पर 16 मई 2016 को जारी किया गया था। ये वीडियो भारत में तेजी से वायरल हुआ है। वीडियो को व्हाट्सएप पर बड़ी मात्रा में शेयर किया गया है। हालांकि जो वीडियो शेयर किया गया है उसे एडिट किया गया है।

रोशनी हेल्पलाइन द्वारा जारी वीडियो में दिखाया गया है कि कराची में कैसे सिर्फ एक मिनट में एक बच्चा अगवाह किया जा सकता है। ये वीडियो लोगों को बच्चा चोरी के प्रति आगाह करने के लिए बनाया गया था। वीडियो के देखा जा सकता है कि कराची के एक इलाके में कुछ बच्चे सड़क पर क्रिकेट खेल रहे हैं।

Loading...

सिक्योरिटी कैमरे में दिखता है 

दो बाइक सवार लोग आते हैं और एक बच्चे को उठाकर वहां से चले जाते हैं। जिसके बाद बच्चे के साथी उन लोगों का पीछा करने की कोशिश करते हैं। हालांकि वह इसमें नाकाम रहते हैं और वापस उसी जगह पर आ जाते हैं जहां से उनके साथी को उठाया गया था।

थोड़ी देर बाद बाइक सवार दोनों युवक वापस लौट आते हैं और उस बच्चे को नीचे उतार देते हैं। जिसके बाद बाइक सवार युवक एक पोस्टर दिखाते हैं, जिसमें लिखा होता है कि मुझे कराची की सड़क से एक बच्चे को अगवाह करने में सिर्फ एक मिनट लगा। भारत में ये वीडियो पिछले दिनों तेजी से वायरल हुआ है।

वायरल वीडियो में बच्चे को अगवाह करने के बाद से सीन्स को हटा दिया गया है। बच्चों की किडनैपिंग रोकने के लिए बनाया गया ये वीडियो कई लोगों की जिंदगी का काल बन गया है। भारत में पिछले कुछ समय में 9 राज्यों में हुई अलग-अलग घटनाओं में 27 लोगों की जान चली गई। इन लोगों की हत्या भीड़ ने बच्चा चोरी के शक में की है। इस विवाद के बाद सरकार ने व्हाट्सएप से फेक मैसेज पर रोक लगाने की मांग की। जिसके बाद व्हाट्सएप ने पहली बार अखबार में विज्ञापन जारी कर 10 टिप्स दिए, जिससे फेक मैसेज से बचा जा सकता है।

देखे VIDEO

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker