पूर्व प्रधानमंत्री की अंतिम यात्रा में शामिल होंगे 5 लाख के अधिक लोग, यमुना तट पर पंचतत्‍व में विलीन होंगे वाजपेयी

https://youtu.be/FJpLpYqZKhE

नई दिल्‍ली : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा में जनसैलाब उमड़ पड़ने का अनुमान जताया जा रहा है। दिल्‍ली पुलिस के अनुमान के मुताबिक, उनकी अंतिम यात्रा में 5 लाख से अधिक लोग शामिल हो सकते हैं, जो बीजेपी कार्यालय से शुरू होकर राजघाट के करीब स्‍मृति स्‍थल तक जाएगी। यहां आज शाम उनका अंतिम संस्‍कार किया जाना है।

बीजेपी के कद्दावर नेता का गुरुवार शाम एम्‍स में निधन हो गया। वाजपेयी की लोकप्रियता न केवल अपनी पार्टी में, बल्कि अन्‍य दलों के बीच भी थी और वैचारिक मतभेद होने के बावजूद उन्‍हें व्‍यक्तिगत तौर पर पसंद करने वालों की एक बड़ी तादाद है। यही वजह है कि उनकी अंतिम यात्रा में विभिन्‍न पार्टियों के नेताओं, महत्‍वपूर्ण हस्तियों के साथ-साथ बड़े पैमाने पर आम लोगों के भी शामिल होने की उम्‍मीद की जा रही है।

Atal Bihari Vajpayee

दिल्‍ली में पिछले 27 साल में इतने बड़े पैमाने पर किसी की भी अंतिम यात्रा नहीं हुई है, जिसे देखते हुए दिल्‍ली पुलिस ने भी खास तैयारी की है। इससे पहले 1991 में देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का दिल्‍ली में अंतिम संस्‍कार किया गया था और तब व्‍यापक स्‍तर पर इंतजाम किए गए थे। राजीव गांधी की तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में एक आत्‍मघाती हमले में हत्‍या कर दी गई थी, जिसके बाद पूरा देश स्‍तब्‍ध था।

राजीव गांधी की अंतिम यात्रा कांग्रेस दफ्तर से निकाली गई थी और वीरभूमि पर उनका अंतिम संस्‍कार किया गया था। तब उनकी अंतिम यात्रा में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था। अब एक बार फिर कुछ उसी तरह की व्‍यवस्‍थाएं की गई हैं। लंबे समय से बीमार वाजपेयी ने एम्स में 93 साल की उम्र में अंतिम सांस ली, लेकिन उनकी लोकप्रियता राजनीतिक दल से परे थी और यही वजह है कि पूरा देश आज शोकाकुल है।

वाजपेयी की अंतिम यात्रा में जनसैलाब उमड़ने को देखते हुए सुरक्षा के व्‍यापक इंतजाम किए गए हैं। इस दौरान दिल्‍ली आर्म्‍ड पुलिस (DAP) और पैरामिलिट्री पुलिस के 2,000 से अधिक जवानों की तैनाती की गई है। इसके अत‍िरिक्‍त सेंट्रल, नॉर्थ और नई दिल्‍ली की पुलिस भी मुस्‍तैदी से मोर्चा संभाले हुए हैं, ताकि देश के पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की अंतिम यात्रा सुचारु ढंग से संपन्‍न हो सके।

डीसीपी मधुर वर्मा ने बताया कि दिल्‍ली पुलिस ने वाजपेयी की अंतिम यात्रा के मद्देनजर सुरक्षा के व्‍यापक इंतजाम किए गए हैं। यह सुनिश्चित करने की कोशिश की जा रही है कि उन्‍हें श्रद्धांजलि देने के लिए पहुंचने वाले लोगों और उनकी अंतिम यात्रा में शामिल होने वालों को कम से कम असुविधा का सामना करना पड़े। इस दौरान सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया गया है।

इस दौरान सुरक्षा के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरा भी लगाए गए हैं। हर चौराहे पर पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इनमें से कुछ को सादी वर्दी में तैनात किया गया है। वाजपेयी की अंतिम यात्रा के मद्देनज दिल्‍ली में कई मार्ग पहले ही बंद किए गए हैं। दिल्‍ली ट्रैफिक पुलिस ने इस संबंध में एडवाइजरी भी जारी की है और लोगों से नियमित तौर पर उनके फेसबुक व ट्विटर हैंडल देखते करते रहने को कहा है।

LIVE update

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का गुरुवार शाम निधन हो गया। शुक्रवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। अटल बिहारी वाजपेयी का पार्थिव शरीर भाजपा मुख्यालय ले जाया गया। वाजपेयी की अंतिम यात्रा दोपहर करीब 1 बजे शुरु होगी।

यह अंतिम यात्रा पंडित दीन दयाल उपाध्याय मार्ग, बहादुर शाह जफर मार्ग, दिल्ली गेट, नेताजी सुभाष मार्ग और शांति वन होते हुए राष्ट्रीय स्मृति समाधि स्थल पर पहुंचेगी, जहां उनका पार्थिव शरीर शाम करीब 4 बजे पंचतत्व में विलीन हो जाएगा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा के मद्देनजर नागरिकों को सलाह दी जा रही है कि वह वैकल्पिक रास्तों का इस्तेमाल करें। इतना ही नहीं ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को यह सलाह भी दी है कि वह आज निजी वाहनों का इस्तेमाल कम करें और यदि संभव हो तो सार्वजनिक वाहनों जैसे डीटीसी बसों या दिल्ली मैट्रो में सफर तय करें।

https://youtu.be/aN8dZGVJKg4

Back to top button
E-Paper