बांदा : अमृत सरोवर के अतिक्रमणकारियों को दी चेतावनी

ग्राम प्रधान की अगुवाई में हुआ सीमांकन, करीब आधा सैकड़ा पर चलेगा बुलडोजर

ग्राम पंचायत पतौरा में बन रहा अमृत सरोवर, ग्रामीणों ने बनाया अतिक्रमण का शिकार

भास्कर न्यूज

बांदा। सड़कों पर अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ जहां योगी बाबा का बुलडोजर गरज रहा है, वहीं अब तालाबों के भीटों पर काबिज ग्रामीणों पर भी बुलडोजर का आतंक मंडराने लगा है। शासन के निर्देश पर गांव गांव चल रही अमृत सरोवर योजना के तहत चिंहित तालाबों पर काबिज अतिक्रमणकारियों से इसकी शुरूआत हो चुकी है।

महुआ विकास खंड के पतौरा गांव में अमृत सरोवर योजना के तहत चिहित तालाब के भीटे पर करीब एक सैकड़ा ग्रामीणों ने अवैध रूप से कब्जा कर रखा है। जिसे हटाने के लिए शासन से लेकर स्थानीय स्तर पर आदेश जारी हो चुके हैं, लेकिन ग्रामीणों के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही। जिलाधिकारी अनुराग पटेल के निर्देशन और एसडीएम नरैनी के आदेश पर गुरुवार को राजस्व व पुलिस विभाग की टीम गांव में पहुंची और ग्राम प्रधान विनीता ओमप्रकाश त्रिपाठी की अगुवाई में तालाब के भीटों पर काबिज अतिक्रमणकारियों को चेतावनी दी। वहीं अतिक्रमण को लेकर राजस्व विभाग ने तालाब का सीमांकन भी कराया।

राजस्व निरीक्षक व हल्का लेखपाल ने बताया कि सीमांकन के साथ ही अतिक्रमण की जद में आने वाले ग्रामीणों को दो दिन का समय दिया गया है, इस अवधि में अपना अवैध कब्जा न हटाने वालों का अतिक्रमण हटाकर उनसे हर्जाना वसूला जाएगा। बताया है कि तालाब के भीटा में जहां करीब आधा सैकड़ा से अधिक ग्रामीणों का आंशिक और आधा दर्जन का पूर्ण रूप से अवैध कब्जा पाया गया है, जिसे हटाने के लिए दो दिन बाद टीम दल बल के साथ पहुंचेगी और सभी अवैध कब्जों को धराशाई कर दिया जाएगा।

इस मौके पर राजस्व निरीक्षक बड़ोखर योगेंद्र कुमार, राजस्व निरीक्षक गिरवां रमेश कुमार, हल्का लेखपाल रुपेंद्र कुमार, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ओमप्रकाश त्रिपाठी समेत हल्का इंचार्ज व पुलिसकर्मी मौजूद रहे। 

Back to top button