22 को रिश्ता हुआ पक्का, 24 को हुए सात फेरे, 26 को दुल्हन हुई फुर्र

 Bride Ran away after two days of marriage in bollywood film style

22 को रिश्ता हुआ। 24 को शादी और 26 को जाहू में दूल्हे के साथ शॉपिंग करने गई दुल्हन फुर्र हो गई। बॉलीवुड फिल्म ‘डॉली की डोली’ से मिलती-जुलती लुटेरी दुल्हन की यह कहानी मंडी के बलद्वाड़ा तहसील के समैला गांव में हुई घटना से मेल खा रही है। शिकायतकर्ता दूल्हा है जो खुद को ठग गिरोह का शिकार बता रहा है। पुलिस ने शिकायत का संज्ञान लेकर पूरे मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

बलद्वाड़ा तहसील के समैला गांव के पीड़ित सुरेश कुमार (37) ने एसपी मंडी को शिकायत में बताया है कि उसे शादी के नाम पर ठगा गया है। उसने बताया कि उसकी शादी 22 वर्षीय लड़की से हुई जो बालीचौकी की रहने वाली बताई गई, लेकिन अब दुल्हन पचास हजार रुपये समेत फरार हो गई है।

सुरेश ने बताया कि उसकी पहली शादी टूट चुकी है। लंबे समय से वह अकेला रह रहा था। उसकी बहन उसके लिए लड़की की तलाश में थी। तभी उनका संपर्क एक व्यक्ति से हुआ, जिसने उन्हें शादियां करवाने वाली एक महिला का नंबर दिया। उनके परिवार ने महिला से बातचीत कर शादी की बात चलाई।

सकी बहन ने जब शादी करवाने वाली महिला से संपर्क साधा तो उसने एडवांस में 50 हजार रुपये की मांग की। शादी से पहले दो किस्तों में उसने तीस और बीस हजार रुपये दे दिए। महिला ने लड़की के साथ आनन-फानन शादी का दबाव बनाया, जिसके बाद घुमारवीं एसडीएम कार्यालय में महज दो दिन में शादी करवा दी गई। सुरेश की बहन ने पैसों के लेन-देन की रिकॉर्डिंग भी कर ली थी।

Image result for विवाह

शिकायतकर्ता ने बताया कि जिस लड़की से उसकी शादी हुई थी, उसी लड़की की शादी साथ के गांव में भी करवाई जा रही थी। इनसे भी महिला ने 35 हजार रुपये एेंठ लिए थे, लेकिन इनके पास आधार कार्ड न होने से यह शादी नहीं हो पाई।

एसपी मंडी गुरदेव चंद ने बताया कि इस मामले में बलद्वाड़ा चौकी को तह तक जाने के आदेश दे दिए गए हैं। शादी कर वर पक्ष को ठगने वाला कोई गिरोह है तो उसका भंडाफोड़ किया जाएगा। उधर, चौकी प्रभारी लाल सिंह ने कहा कि जांच के आदेश पहुंच चुके हैं। छानबीन की जा रही है।

Back to top button
E-Paper