DGP Jail Lohia Murder: पुलिस ने किया आरोपी नौकर को गिरफ्तार, पूछताछ जारी

आज जम्मू-कश्मीर के डीजी जेल हेमंत कुमार लोहिया की हत्या से हड़कंप मच गया. वारदात के बाद से ही मृतक का आरोपित नौकर फरार चल रहा था. पुलिस प्रशासन की तत्परता से हत्या के आरोपी नौकर को कुछ ही समय में गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि, DG जेल हेमंत के लोहिया का शव जम्मू के उदयवाला में उनके दोस्त के घर पर मिला था. उनकी गला रेतकर हत्या की गई थी. इसके अलावा उनके शरीर पर चोट और जलने के निशान भी मिले थे. पुलिस को आशंका है कि गला रेतने के बाद डीजी जेल का शव जलाने का प्रयास किया गया.

आरोपी से चल रही पूछताछ

जानकारी के मुताबिक, जम्मू ADGP मुकेश सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि, शुरुआती जांच में सामने आया है कि नौकर यासिर अहमद ही मुख्य आरोपी है. जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. वह अपने व्यवहार में काफी आक्रामक था और सूत्रों के अनुसार अवसाद में भी था. उन्होंने बताया कि अभी तक की जांच में कोई टेरर एंगल नहीं आया है. आरोपी को गिरफ्तार करने के साथ साथ पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल हथियार जब्त कर लिए हैं. कुछ ऐसे दस्तावेज मिले हैं, जिनसे आरोपी की मानसिक स्थिति का पता चलता है.

वारदात के बाद भागता दिखा आरोपी

पुलिस ने आसपास से कुछ सीसीटीवी फुटेज भी इकट्ठे किए हैं. इसमें आरोपी वारदात के बाद भागता दिख रहा है. वह पिछले 6 महीने से DG जेल हेमंत के लोहिया के घर पर काम कर रहा था. पुलिस को वारदात की जगह से एक डायरी मिली है. इसमें आरोपी ने शायरियां लिखी हैं. इन शायरियों में उसने अपनी जिंदगी को खत्म करने का संकेत दिया. उसने एक शायरी में लिखा, ”हम डूबते हैं, डूबने दो. हम मरते हैं, तो मरने दो. पर अब कोई झूठापन मत दिखाओ.” फिलहाल पुलिस यासिर अहमद से पूछताछ कर रही है.

आज ही हुई थी हत्या

गोरतलब है कि, आज ही 1992 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी लोहिया (52) शहर के बाहरी इलाके में अपने उदयवाला निवास पर मृत मिले और उनका गला रेता गया था. घटना स्थल की प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि लोहिया ने अपने पैर में तेल लगाया होगा, जिनमें सूजन दिखाई दे रही थी. हत्यारे ने लोहिया का गला काटने के लिए ‘केचप’ की टूटी हुई बोतल का इस्तेमाल किया और बाद में शव जलाने की भी कोशिश की.

Back to top button