लॉकडाउन के बीच क्या आपने देखी 17 मिनट की शादी ?

हमीरपुर । राठ कस्बे के लुधियातपुरा मझगवां रोड पर मात्र 17 मिनट में सम्पन्न हुआ विवाह चर्चा का विषय बना हुआ है। बाबा रामपाल के अनुयाइयों ने गुरुमंत्र का उच्चारण करते हुए अपने पुत्र व पुत्री का दहेज व आडंबर रहित विवाह संपन्न कराया।

मझगवां थाने के नौरंगा गांव निवासी प्रमोद राजपूत कस्बे के लुधियातपुरा में मकान बनाकर परिवार सहित रहते हैं। अपनी पुत्री श्रद्धा राजपूत का विवाह नौहाई गांव निवासी करन सिंह के पुत्र ध्यानपाल सिंह के साथ तय की। रविवार को विवाह संस्कार संपन्न कराए गए। बताया कि वह लोग बाबा रामपाल जी के अनुयायी हैं। जिनका संदेश दहेज व आडंबर रहित विवाह करना है। इसलिए उन्हें लॉक डाउन में शादी करने में कोई दिक्कत नहीं हुई।

20 लोगों की स्वीकृति के बावजूद मात्र 7 लोगों की मौजूदगी में विवाह संपन्न हुआ। 17 मिनट तक गुरु मंत्र का उच्चारण कर विदाई कर दी गई। कोरोना संक्रमण को देखते हुए सामाजिक दूरी का ध्यान रख मुंह में मास्क लगे रहे। लड़की के माता पिता ने नवदंपत्ति को दहेज के रूप में बाबा रामपाल निर्देशित जीवन की राह पुस्तक भेंट की गई। बुंदेलखंड कोआर्डिनेटर धीरेंद्र खरे, जिला कोआर्डिनेटर मनोज गुप्ता, खेमचंद्र वर्मा तथा गौकरन राजपूत रहे।

Back to top button
E-Paper