डीएम का आदेश हवा में उड़ा रहे नगीना में झोलाछाप, डंके की चोट पर कर रहे प्रेक्टिस

शहजाद अंसारी

बिजनौर।कोरोना संक्रमण के मद्देनजर शासन की ओर से मिले निर्देशों के बाद नोडल अधिकारी क्वेक्स डॉ नवीन कुमार द्वारा अभियान चलाए जाने के बाद झोलाछाप चिकित्सकों की शामत आ गयी। नोडल अधिकारी ने शिकायत मिलने पर मंगलवार को नगीना में एचएल मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल पर छापा मारा जहां सभी मानकों को ताक पर रखकर ओटी व ओपीडी चला रखी थी जिसमें चार मरीज भर्ती मिले लापरवाही का आलम यह था कि स्टाफ के भरोसे चल रहे हॉस्पिटल में किसी ने भी मास्क नहीं लगा रखा था।

 वहीं अलका हॉस्पिटल संचालक ने नोडल अधिकारी से नोक झोंक करनी चाही लेकिन पुलिस बल की मौजूदगी में उसकी एक न चल सकी इन हॉस्पिटल के साथ ही अम्बेडकर नगर स्थित साईं हेल्थकेयर सेंटर को भी सील कर दिया गया।

छापेमारी की कार्रवाही से झोलाछाप डॉक्टरों में हड़कम्प मच गया भनक लगने पर कई डॉक्टर अपने क्लीनिक बन्द करके भाग गएलेकिन बुधवार को इन झोलाछाप चिकित्सकों ने डीएम के आदेश को हवा में उडाते हुए सुबह से ही बेखौफ होकर अपनी दुकानों पर प्रेक्टिस शुरु कर दी है।
कोरोना महामारी के मद्देनजर शासन के निर्देशों पर जिलाधिकारी रमाकांत पांडेय ने जनपद भर में झोलाछाप डॉक्टरों के विरुद्ध अभियान के निर्देश दे रखे हैं जो कोरोना संक्रमण को गम्भीरता से न लेकर लॉक डाउन के दौरान सारे नियम कायदों व स्वास्थ्य निर्देशो की लगातार धज्जियां उड़ा रहे हैं। नोडल अधिकारी क्वेक्स/सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डा0 नवीन कुमार के लगातार छापेमारी व कड़े रुख से झोलाछाप डॉक्टरों की शामत आ गई है अब झोलाछाप अपने संरक्षणदाताओं से गुहार लगाते फिर रहे हैं लेकिन कोरोना की गम्भीरता को देखते हुए झोलाछापों के लिए सभी दर बन्द हो चुके हैं।

 नोडल अधिकारी क्वेक्स डॉ नवीन कुमार ने लगातार मिल रही शिकायत पर नगीना में धामपुर रोड तडका होटल के निकट धड़ल्ले से चल रहे एच एल मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल पर छापा मारा जहां सभी मानकों को ताक पर रखकर ओटी व ओपीडी चला रखी थी जिसमें चार मरीज भर्ती मिले लापरवाही का आलम यह था कि स्टाफ के भरोसे चल रहे हॉस्पिटल में किसी ने मास्क तक नहीं लगा रखा था वहीं अलका हॉस्पिटल में भी धड़ल्ले से ओटी चलता मिला हॉस्पिटल संचालक ने नोडल अधिकारी से नोक झोंक करनी चाही लेकिन पुलिस बल की मौजूदगी में उसकी एक न चल सकी इन हॉस्पिटल के अलावा अम्बेडकर नगर स्थित साईं हेल्थकेयर सेंटर को भी सील कर दिया गया। छापेमारी की कार्रवाही से झोलाछाप डॉक्टरों में हड़कम्प मच गया भनक लगने पर कई डॉक्टर अपने क्लीनिक बन्द करके भाग गए।

 लेकिन बुधवार को इन झोलाछाप चिकित्सकों ने डीएम के आदेश को हवा में उडाते हुए सुबह से ही बेखौफ होकर अपनी दुकानों पर प्रेक्टिस शुरु कर दी है।नोडल अधिकारी क्वेक्स डा0 नवीन कुमार ने दैनिक भास्कर संवाददाता शहजाद अंसारी को बताया कि झोलाछाप डॉक्टरों व अवैध रूप से चल रही लैब पर छापामारी कर सील करने की कार्रवाही आगे भी जारी रहेगी नगर के लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ या लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Back to top button
E-Paper